मध्यप्रदेश

“भाजपा किसान चौपाल एंव किसान सम्मेलन के आयोजन में सबसे पेहले नोटबंदी के फ़ायदे बतायें “

कलयुग की कलम समाचार पत्रिका इन्दौर

“भाजपा किसान चौपाल एंव किसान सम्मेलन के आयोजन में सबसे पेहले नोटबंदी के फ़ायदे बतायें “

“जीडीपी -23.90 क्यों गिरी यह समझाये”

“एसएसपी का क़ानून बनाने से क्यों भाग रही केंद्र सरकार एंव शिवराज सरकार एमएसपी क़ानून क्यों नही बना रही ? यह समझाये “

कलयुग की कलम

इन्दौर,म.प्र.के मुख्यमंत्री किसानों की समस्याओं को इवेन्ट समझकर किसान चौपालों और सम्मेलनों का आयोजन करने घोड़े पर बैठकर निकल पड़े हैं।लेकिन किसानों की समस्याओं का क्या समाधान हैं यह मुख्यमंत्री को पता नहीं हैं क्योंकि किसान बिल का मामला मुख्यमंत्री के अधिकार क्षेत्र में नहीं हैं लेकिन जनसेवा करे या न करे लेकिन राजनीति किसानों को लेकर लगातार करना ही हैं।

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने आरोप लगाया हैं की भाजपा की शिवराज सरकार किसान बिल पर किसानों को समझाने के लिए किसान चौपाल एंव किसान सम्मेलन में यह समझाये की केंद्र सरकार की नोटबंदी से देश को क्या फ़ायदा हुआ था..?पीएम मोदी के मास्टर स्ट्रोक नोटबंदी से कितना कालाधन देश को प्राप्त हुआ।इसके बाद ही शिवराज सरकार किसान बिल के कथित फ़ायदे किसानों को समझाने की नौटंकी करें।किसान आंदोलन से घबराकर शिवराज सरकार किसानों की चौपाल एंव किसान सम्मेलनों के नाम भाजपा कार्यकर्ताओं का मजमा लगाकर किसानों को भ्रमित करने का प्रयास करने की असफल कोशिश इवेन्ट कम्पनी के माध्यम से कर रही हैं।शिवराज सरकार को सर्वप्रथम एमएसपी का क़ानून बनाकर किसानों के पास जाना चाहिए।किसानों के हितों की रक्षा का दावा करने वाले मुख्यमंत्री म.प्र.में एमएसपी का क़ानून बनाये एंव इस एमएसपी क़ानून में प्रावधान करे की एमएसपी से कम दर पर जो उघोगपति किसानं से फसल ख़रीदेगा उसे दस साल की सज़ा का प्रावधान रहेगा एंव एमएसपी क़ानून बनने के बाद एमएसपी हमेशा लागू रहेगी इसे कभी समाप्त नही किया जा सकेगा।

मुख्यमंत्री में किसानों का हित करने की हिम्मत नही हैं सिर्फ किसानों के नाम पर वोटों की खेती के लिए किसान चौपाल की नौटंकी ही कर सकते हैं।म.प्र.का किसान समझता हैं शिवराज सरकार को क्योंकि पिछले पन्द्रह वर्ष के शासन में सबसे ज़्यादा किसानों ने शिवराज सरकार के राज में आत्महत्या की थी।

राकेश सिंह यादव

प्रदेशसचिव

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी

भोपाल

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close