मध्यप्रदेश

कागजों में बनी सड़क शिकायत वापस लेने बना रहे दबाव 

कलयुग की कलम न्यूज वेबसाइट ढीमरखेड़ा सिलौडी

सिलौंड़ी:-अपनी कारगुजारीयों के लिए लगातार चर्चित होती जा रही ग्राम पंचायत सिलौंड़ी एक बार फिर चर्चा में है।

 विषय है सिलौंड़ी के सूखा नाला से होकर महादेव घाट तक जाने वाला मार्ग निर्माण। ज्ञात हो कि यह मार्ग वर्षों पहले कागजों में बना दिया गया था जिसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही थी

मार्ग के नाम पर बड़ी राशि आहरित कर ली गई लेकिन काम कुछ भी नहीं कराया गया जिससे स्थानीय जनों और किसानों में आक्रोश था।

इस मार्ग का सबसे अधिक उपयोग स्थानीय किसान कृषि कार्यों हेतु आवागमन में करते हैं

सिलौंड़ी से कुंडम मार्ग पर सूखा पुल से लेकर महादेव घाट होते हुए अम्हेटा पहुंच ये मार्ग बनने से लोगों को काफी सुविधा भी होगी साथ ही दूरी भी कम तय करनी पड़ेगी जैसे अम्हेटा के बाशिंदों को यदि कुंडम जाना होगा तो उन्हें यह मार्ग बायपास के तौर पर उपयोगी होगा।

आपकी सरकार आपके द्वार पहुंची तब भी नहीं मिली राहत

आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में स्थानीय किसानों ने अपनी पीड़ा व्यक्त की थी जिसमें जिला कलेक्टर ने शीघ्र अति शीघ्र राहत दिलाने और मार्ग व्यस्त दुरुस्त कराए जाने आश्वस्त कराया था लेकिन आज लंबा अरसा बीत जाने के बाद भी मार्ग की स्थिति वैसी ही है।

थक हार कर 181 में किया शिकायत

कहीं से भी राहत ना मिल पाने की स्थिति में स्थानीय किसानों ने 181 में अपनी शिकायत दर्ज कराई और राहत मिलने की बाट जोह रहे लेकिन अब भी स्थिति वैसी ही बनी हुई है।

शिकायत वापस लेने बना रहे दबाव

शिकायतकर्ताकिसान अवधेश हल्दकार ने बताया कि उनके पास कई बार पंचायत अधिकारी आ रहे हैं और शिकायत वापस लेने दबाव बनाते हैं। बकौल अवधेश मैंने कहा कि जैसे काम हो जाएगा वैसे ही अपनी शिकायत वापस ले लूंगा ।

बड़े साहब का आया फोन

पंचायत अधिकारियों को सटीक जवाब देने के बाद किसी बड़े साहब का फोन आया और उन्होंने कहा कि तुम शिकायत करवा कर बनवालोगे क्या सड़क?

अपनी शिकायत वापस ले लो उन्हें ऐसा व्यंगात्मक रूप से और हिदायत आत्मक शब्द कहे जिससे परेशान होकर अवधेश हल्दकार ने भास्कर को अपनी शिकायत बताई।

साहबने कहा बन गयी सड़क,शिकायत वापस लो

एक और कृषक गणपत हल निकालने मार्ग की दुर्दशा पर सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की थी और मंगलवार की दोपहर उनके पास 9826178299 नम्बर से फोन आया और सामने वाले ने कहा कि क्यों शिकायत कर रहे हो मार्ग बन गया है।

अपनी शिकायत वापस लो इस पर गनपत हल्दकार ने कहा कि मार्ग में बोल्डर और मिटटी मुरम कहीं नहीं पड़ी है तब उक्त कथित अधिकारी ने कहा कि मैंने खुद जाकर देखा है मार्ग बन गया।

मैंने निरीक्षण किया है शिकायत वापस लो

गनपत हल्दकार को फोन करने वाले ने अपने आपको अधिकारी बताते हुए विस्तृत जानकारी दी है और यह भी कहा है कि मैंने खुद मार्ग का निरीक्षण किया है और मार्ग पूरी तरह से और अच्छा बना हुआ है तुम शिकायत वापस ले लो।

प्रशासन की भूमिका संदिग्ध

इस तरह गतिविधियों से स्थानीय प्रशासन की भूमिका संदिग्ध हो चली है जिसके तहत ऐसा प्रतीत होता है मानो सीएम हेल्पलाइन में शिकायत होने से बचने के लिए स्थानीय प्रशासन के लोग येन केन प्रकारेण शिकायत वापस लेने दबाव बना रहे हैं जिससे उनकी जवाबदेही पर सवाल खड़ा ना हो।

मामले की हो जांच

बड़े पैमाने में मार्ग के निर्माण में हुई धांधली और उसके बाद प्रशासन के इस तरह के दबाव बनाने वाले रवैया के चलते स्थानीयजनों अवधेश हल्दकार, गनपत हल्दकार,सुरेश काछी, वीरेंद्र काछी,हरि शर्मा,श्रीलाल काछी जयप्रकाश काछी, हीरामन काछी, रामगोपाल काछी,राजकुमार काछी,दीनू काछी,शुभम पटेल,रवि काछी,वीरेंद्र पुरी, मुन्ना राव,कंठलाल काछी शादी में शीघ्र अतिशीघ्र बड़े पैमाने पर हुए इस भ्रष्टाचार की जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close