मध्यप्रदेश

शहीदों, असंख्य मृत आत्माओं को दीपदान कर मनाई दीवाली

कलयुग की कलम/ योगेश योगी /सतना

शहीदों, असंख्य मृत आत्माओं को दीपदान कर मनाई दीवाली

 

कलयुग की कलम/ योगेश योगी /सतना

समीपस्थ तहसील नागौद में दिनांक 15 नवम्बर 2020 दीपावली के दिन फकीर छाया (मर्चुरी हॉउस) नागौद में शायं 6 बजे फकीर टोली ने एक अद्भुत- अनुकरणीय व अविस्मरणीय पहल की। दीपावली के शुभ अवसर पर दीपदान कार्यक्रम देश की सीमाओं की रक्षा में अपनी जान न्यौछावर करने वाले वीर सपूतों,इस भीषण करोना पेंडमिक काल में असमय अपनीं जान गँवा देंने वाले हजारों देशवासियों तथा नित्य होने वाली दुर्घटनाओं व जानलेवा बीमारियों से काल के गाल में समा जाने वाले ऐसे उन तमाम ज्ञात व अज्ञात मृत आत्माओ की स्मृति में दीपदान का आयोजन किया गया।कार्यक्रम मे अपने विचार व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय कवि अशोक सुंदरानी ने “ऐ मेरे वतन के लोगों जरा आँख में भर लो पानी जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुर्बानी” गीत के माध्यम से अपने वक्तव्य की शुरुआत करते हुए इस अनोखे दीपदान को जीवन की बहुत ही यादगार व सकारात्मक अनुभूति बताते हुए सभी को दीपावली की अनन्त व असंख्य बधाइयाँ दी। वरिष्ठ पत्रकार व समाज सेवी इन्द्रजीत गर्ग नें इस मर्चुरी में किए गए दीपदान कार्यक्रम को एक नयी मिशाल व शहीदों व असंख्य मृत आत्माओं की याद में फकीर टोली द्वारा किया गया एक बेमिशाल कार्य निरूपित किया। नागौद में समाज सेवा की पहचान बनें डॉ एस एन सिंह पाल नें ऐसे सार्वजनिक स्थानों में दीपदान कार्यक्रम किया जाना समाज को एकता के सूत्र में बाँधने वाला तथा बहुत ही उम्दा व सराहनीय बताया। एड.मिथलेश पाण्डेय नें समस्त देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि इस प्रकार के दीपदान कार्यक्रम देश की सभी मर्चुरियों में होने चाहिए।युवा गायक नवीन निगम ने “जाने चले जाते हैं कहाँ दुनिया से जाने वाले” गीत की शानदार प्रस्तुति देकर सभी का मन मोह लिया। प्रोफेसर संतोष सोनी ने दीपावली के शुभ अवसर पर बधाइयाँ देने के साथ-2 दीपदान को राष्ट्र की एकता-अखण्डता व भाईचारे की भावना को प्रतिस्थापित करने का अनुपम प्रयास बताया। शिक्षक राकेश प्रताप सिंह नें ये जीवन है इस जीवन का यही है रंग रूप गीत की प्रस्तुति देते हुए दीपावली के शुभ अवसर पर सभी के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए दीपदान को अतुलनीय कार्य बताया। कार्यक्रम का संचालन कर रहे बालीबाल के राष्ट्रीय रैफरी महाकौशल प्रान्त, क्रीड़ा भारती के प्रभारी अरुण कुमार सिंह नें दीपावली के पवित्र अवसर पर सभी को बधाइयाँ देते हुए कहा कि फकीर टोली उन सभी जाने-अन्जानें मृत आत्माओं की स्मृति में दीपदान करने का प्रयास किया है जिनके घरों में दिए जलाने वाले कोई नही होते। दीपावली में दिए तो प्रायः हर घरों में प्रकाशित होते हैं किन्तु फकीर टोली ने फकीर छाया (मर्चुरी) में दीपदान करके एक श्रेष्ठतम शुरुआत करने का प्रयास किया है।कार्यक्रम में प्रमुख रूप से नारायण देव परौहा, एड.सत्यराज लोधी,माखन लाल गुप्ता, मो.नूर जी,प्रदीप अग्रवाल, विनोद कुशवाहा,नारेन्द्र गुप्ता, दिनेश कुमार यादव,दीपू सुंदरानी,मीठीजी,पुष्प मोहन अवधिया,हरिहर सिंह पटेल,डाॅ टी के मित्रा,जीतेन्द्र सिंह,डॉ प्रेमचंद कुशवाहा,कौशलेन्द्र प्रताप सिंह,राजेश धनवानी,एड.राजबहादुर बागरी,विनोद कश्यप,मो रजा,भोला कुशवाहा व राजेश कोरी की गरिमामयी उपस्थिति रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close