प्रयागराज

दीपमालाओं में एक दीया शहीदों के नाम- सरदार पतविंदर सिंह @ रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज नैनी

कलयुग की कलम

प्रयागराज नैनी समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने अपने युवा सहयोगीयों के साथ अरैल तट क्षेत्र में भ्रमण कर यह आह्वान किया कि देश की रक्षा के लिए जिन वीर सैनिकों ने अपने प्राण निछावर किए हैं उनकी शहादत को कभी नहीं भुलाया जा सकता हमारे सैनिक अपनी जिंदगी की परवाह किए बिना सीमाओं पर दुश्मनों से लड़ते हैं और देश की सीमाएं सुरक्षित रखते हैं देश के लिए मर मिटने वाले शहीदों के सम्मान करना समस्त देशवासियों का कर्तव्य बनता है l

संजय श्रीवास्तव (पूर्व ब्लाक प्रमुख )ने कहा कि देश के जवानों के कारण हम भारतवासी अपने-अपने घरों में अमन. चैन से जिंदगी जीते हैं आज देश की सीमाएं वीर सैनिकों की बदौलत ही सुरक्षित हैं सैनिक हमारे देश के प्रहरी है सीमा पर तैनात जवान परिवार से दूर रहकर दुर्गम परिस्थितियों में भी दुश्मन से लोहा लेते हैं l

उन्होंने ने आगे कहा कि राष्ट्र की सुरक्षा .अखंडता एवं एकता को बनाए रखने में सैनिक मुस्तैद रहते हैं देश के सैनिकों के कंधों पर देश एवं देशवासियों की सुरक्षा का भार रहता है सैनिक दिन-रात सीमाओं पर कठिन परिस्थितियों में सुरक्षा करते हैं जिसके बदौलत देश के लोग अमन चैन से जीवन व्यतीत करते हैं देश के नागरिकों एवं आम जनता के बीच प्रेम स्नेह बना रहे इसको लेकर कई बार सैनिक अपनी जान का बलिदान दिए हैं शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले .वतन पर मरने वालों का बाकी निशा होगाl

हरमन जी सिंह ने आगे कहा कि आज यदि सभी भारतवासी अपने त्यौहार प्रशंसा पूर्वक मनाते हैं तो इसका श्रेय सिर्फ देश के जांबाज सैनिकों को ही जाता है जो कि विपरीत मौसम और परिस्थितियों के बावजूद सीमाओं की सुरक्षा करते हैं हर भारतीय शहीद सैनिकों का कर्जदार है इसलिए हमारा भी फर्ज बनता है कि इन शहीदों को याद करें और उनके परिवार को भी इन खुशियों में साथ शामिल करें l

धीरजयादव ने कहा कि हर त्यौहार पर ना सही पर कम से कम दिवाली के त्यौहार पर तो शहीदों को याद किया जाना चाहिए क्योंकि उन्हीं की बदौलत हम चैन की सांस ले रहे हैं दीपावली की दीपमालाओं में एक दीया देशवासियों की सुरक्षा में लगे सजग प्रहरीयों के नाम भी जलाया जाए .एक दीया उनके लिए भी हो जो सुरक्षा करते करते शहीद हो गए हर व्यक्ति को आगे बढ़कर शहीदों का सम्मान करना चाहिए शहीदों का सम्मान प्रत्येक व्यक्ति का दायित्व है क्योंकि इनकी बदौलत ही हम अपने घरों में दीपावली मना पाते हैं

समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने अंत में पुनः एक बार कहा कि आइए इस दिवाली पर शहीद सैनिकों के नाम एक दीपक जलाएं. जिन्होंने देश की आन. बान और शान के लिए अपनी जान तक की बाजी लगा दीl शहीद सैनिकों के सम्मान में एक दीपक आप कहीं भी जैसे किसी शहीद स्मारक .किसी शहीद की प्रतिमा पर अथवा किसी सार्वजनिक स्थल पर जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करें lआइए इस दिवाली के मौके पर हम अपने देश के अमर शहीदों को याद कर .उन परिवारों के साथ खड़े हों जिन्होंने मातृभूमि की रक्षा के लिए सपूत खोया है देशवासियों को अमर शहीद सैनिकों की याद में इस दिवाली पर एक दीया अवश्य जलाना चाहिए ताकि उनकी आत्मा को शांति मिल सकेl “एक दीया शहीदों” के नाम जन जागरूकता कार्यक्रम में सत्यनारायण, बाबूजी यादव,अखिलेश पंडा, पंडित दामोदर प्रसाद तिवारी पंडित धीरू तिवारी महेश वर्मा राजू शुक्ला, राम जी श्रीवास्तव, विकास ,अजीत.प्रदीप .दिलीप .अर्चना.अनिता राज .रश्मि.आदि रहेl

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close