मध्यप्रदेश

पुत्र के हत्या की सीबीआई जांच को लेकर 3 दिन से पिता आमरण अनशन पर”@ रीवा ब्यूरों रिपोर्ट”कलयुग की कलम”

कलयुग की कलम

कलयुग की कलम

 रीवा 8 नवंबर 2020… रीवा थाना समान क्षेत्र अंतर्गत ग्राम जिवला निवासी रोशन लाल साकेत हत्याकांड की सीबीआई जांच को लेकर मृतक के पिता पूर्व सरपंच छोटेलाल साकेत अपने परिजनों की उपस्थिति में दिनांक 6 नवंबर 2020 से कलेक्टर कार्यालय रीवा के समक्ष आमरण अनशन पर है मृतक के पिता व परिजनों का कहना है कि विगत 4 वर्षों से मृतक रोशनलाल साकेत इंदिरा नगर निवासी शशिकांत सेन के यहां काम करता था और वही रहता था कुछ दिन बाद शशिकांत सेन ने न्यू बस स्टैंड के पीछे कोलान बस्ती में उसे किराए का मकान दिला दिया जहां मृतक रहता था उसी किराए के मकान में मृतक की लाश 7 अक्टूबर को मिली मृतक की जीभ काटकर उसकी हत्या करके उसे बिजली के तार से मकान के सेड से लटकाया गया था मृतक के चेहरे और आंख पर पट्टी बंधी थी घटना में शशिकांत सेन सहित अन्य लोग शामिल हैं मौके पर सूचना के बाद जब समान पुलिस पहुंची तब जबरन लाश को तुरंत पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया घटनास्थल से कोई सामग्री जप्त करने या विसरा जांच कराए जाने संबंधी जानकारी नहीं दी मृतक के कपड़े बाहर फेंक दिए गए और थाना प्रभारी समान द्वारा यह धमकी दी गई कि कोई नेतागिरी करेगा तो हम उसके खिलाफ मुकदमा पंजीबद्ध कर देंगे थाना प्रभारी द्वारा परिजनों को टॉर्चर किया गया था तथा थाना प्रभारी द्वारा आरोपियों का बचाव किया जा रहा है अभी तक प्रकरण पंजीबद्ध नहीं हुआ मृतक के परिजनों ने पुलिस अधीक्षक डीआईजी आईजी कमिश्नर रीवा कलेक्टर रीवा गृह मंत्री मुख्यमंत्री महोदय को आवेदन दिया था लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई जिससे तंग व परेशान होकर मृतक के पिता आमरण अनशन पर हैं दिनांक 7 नवंबर की रात्रि नगर पुलिस अधीक्षक रीवा थाना प्रभारी समान अनशन स्थल पर पहुंचे आमरण अनशन खत्म करने का दबाव बनाए लेकिन मृतक के पिता ने सीएसपी के सामने थाना प्रभारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस पूरे घटनाक्रम के दोषी थाना प्रभारी समान है यदि यह आरोपियों के प्रभाव में न होते तो आज तक हत्या में शामिल आरोपी जेल की सलाखों में होते इसलिए इन्हें तत्काल मेरे अनशन स्थल से हटा दीजिए मैं इनको देखना नहीं चाहता तब सीएसपी ने कहा कि आप अनशन खत्म कर दें ऑफिस चलो मैं तुम्हारा बयान लेता हूं लेकिन अनशन कारी ने कहा कि आप मेरा बयान अनशन स्थल पर ही लीजिए जब तक कार्यवाही नहीं होगी तब तक मैं यहां से नहीं हटूंगा इसके बाद रात्रि में ही डॉक्टरों की एक टीम मेडिकल परीक्षण करने आई और वापस चली गई मृतक के पिता ने यह भी मांग किया है कि पुलिस ने जो मृतक का मोबाइल जप्त किया है उसकी पूरी कॉल डिटेल की जांच कराएं और जो भी दोषी हो उनके खिलाफ हत्या का अपराध पंजीबद्ध करें अन्यथा वह आमरण अनशन खत्म नहीं करेगा अनशन कारी ने मामले की सीबीआई जांच कराए जाने कलेक्टर रीवा से मांग की है अनशन कारी के साथ मृतक की मां पूर्व सरपंच प्रेमवती साकेत मृतक की बहन माला साकेत लक्ष्मी साकेत उर्मिला साकेत मृतक का भाई राहुल साकेत मृतक के चाचा रामाधार साकेत सहित महिला नेता कलावती साकेत मुन्नी साकेत राजकुमारी साकेत रनिया साकेत मायावती साकेत सहित अन्य कई ग्रामवासी उपस्थित रहे

समाजवादियों ने उच्च स्तरीय जांच की मांग किया

====================

वरिष्ठ समाजवादी मीसाबंदी कौशल सिंह मीसाबंदी बृहस्पति सिंह मीसाबंदी रामेश्वर सोनी समाजवादी नेता वीरेंद्र सिंह बघेल समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव रामायण सिंह जनता दल सेक्युलर के प्रदेश अध्यक्ष शिव सिंह समाजवादी नेता इंद्रजीत सिंह मुंशी इंद्रभान साकेत छोटे यादव आदि ने कलेक्टर रीवा सहित पुलिस प्रशासन से मामले की उच्चस्तरीय जांच कराई जा कर हत्या में शामिल आरोपियों को नामजद किए जाने की मांग किया अन्यथा यह भी चेतावनी दिया है कि यदि पुलिस प्रशासन जांच में किसी भी तरह की हीला हवाली करता है तो उनके खिलाफ कड़ा रुख अपनाया जाएगा

              भवदीय

 मृतक की मां पूर्व सरपंच प्रेमवती साकेत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close