मध्यप्रदेश

बड़ामलहरा उपचुनाव शांतिपूर्वक हुआ संपन्न, प्रत्याशियों एवं जिले के प्रशासनिक अधिकारियों ने जनता का किया आभार

राज कुमार सेन ब्यूरो चीफ कलयुग की कलम छतरपुर

छतरपुर। बड़ामलहरा उपचुनाव में आज सुबह से ही मतदान बहुत तेजी से शुरु हुआ और लगभग 70 प्रतिशत मतदान हुआ है। पूरे क्षेत्र में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की चाक चौबंध व्यवस्था के चलते चुनाव में कोई भी अप्रिय घटना नहीं घटी। पूरे क्षेत्र में चप्पे चप्पे में पुलिस कर्मी तैनात थे। इसके अलावा मीडिया की गाडिय़ां पूरे क्षेत्र में कवरेज का काम कर रही थीं। बाहरी क्षेत्र के नेताओं को पुलिस ने मतदान के पूर्व संध्या पर क्षेत्र से खदेड़ दिया था। बाजना में पीडब्ल्यूडी मिनिस्टर के द्वारा रात को गुप्त रूप से ब्राह्मणों की बैठक की जा रही थी। जिसका वीडियो वायरल होने के बाद उन पर आचार संहिता का उल्लंघन करने की एफआईआर दर्ज की गई जबकि हरिशंकर खटीक बड़ामलहरा चुनाव में प्रशासन को चुनौती देते हुए बानपुरा में पहुंच गए थे। कुल मिलाकर बड़ामलहरा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हो गया है और क्षेत्र में अब शर्तों का दौर शुरु हो गया है। इस चुनाव में यह पहली बार देखने को मिला है कि बड़ामलहरा क्षेत्र की जनता बहुत खामोस थी और वोट का प्रतिशत बढ़ा है। जानकारों का कहना है कि जब वोट काप्रतिशत बढ़ता है तो समझ लिया जाए कि यह वोट सरकार के खिलाफ है या वर्तमान प्रत्याशी के खिलाफ है।ज्यादा वोटिंग होना यह दर्शाता है कि क्षेत्र में क्षेत्रीय विधायक का दल बदलकर भाजपा में शामिल होने से हुआ है। लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि यह उप चुनाव है और इस चुनाव में भाजपा सरकार ने शासकीय मशीनरी का उपयोग कर मतदान का प्रतिशत बढ़ाया है। आने वाली 10 तारीख को बड़ामलहरा उपचुनाव का रिजल्ट घोषित हो जाएगा। कौन बड़ामलहरा का विधायक होगा यह जनता बता देगी। इस अवसर पर जिलें के कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह और पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा ने शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न होने पर दोनों पार्टी के नेताओं और जनता के प्रति आभार व्यक्त किया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close