उत्तरप्रदेश

देश के निर्माण मे श्रमिकों का अहम योग दान रहता है @ रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज नैनी

प्रयागराज कंस्ट्रक्शन लेबर यूनियन ( CLU ) के तत्वाधान में बिल्डिंग एंड वुड वर्कर्स इंटरनेशनल (BWI) के सहयोग से निर्माण श्रमिको के सामूहिक लामबंदी, पैरवी और वकालत अभियान विषयक कार्यक्रम का आयोजन विज्ञानं परिषद् , प्रयागराज में किया गया जिसमे शहर के प्रमुख लेबर चौराहों के श्रमिक प्रतिनिधि सहित 03 दर्जन से अधिक श्रमिक उपस्थित थे | कार्यक्रम में सभी को सेनेटाइज कर मास्क वितरित किया गया | कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि के द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से किया गया | कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत दीपक कुमार, जगदीश कुमार, शीतला प्रसाद , मो० अशरफ के द्वारा माल्यार्पण और बैज लगाकर किया गया | कार्यक्रम का संचालन श्री नाजिम अंसारी, सदस्य – प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, भारत सरकार , प्रयागराज के द्वारा किया गया |

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में कंस्ट्रक्शन लेबर यूनियन के महासचिव श्री सी० पी० सिंह ने कहा की कोविड 19 देश के सामने एक बड़ा ही संकट का समय है इससे हम सभी को मिलकर लड़ना है इस दौरान निर्माण श्रमिको के स्थिति अत्यंत ही दयनीय हो गयी है क्योकि श्रमिक देश के निर्माण में अहम् योगदान था लेकिन लॉक डाउन से उनका दैनिक जीवन बहुत ही प्रभावित हुआ है और उनके सामने अभी भी काम का संकट खड़ा हुआ है लेकिन सरकारी परियोजनाएं अब शुरू हो चुकी है जहाँ श्रमिको को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे हमें इन श्रमिको को जोड़ने की जरुरत है |

कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि श्री मिलिंद सक्सेना , कंसल्टेंट , बिल्डिंग एंड वुड वर्कर्स इंटरनेशनल (BWI) ने कहा की भारत सरकार के द्वारा प्रयागराज में गंगा नदी से पश्चिम बंगाल के हल्दिया तक 1500 किमी से अधिक लम्बे संचालित जलमार्ग परियोजना में श्रमिको के काम को लेकर पैरवी की जरुरत है जिससे हजारो श्रमिको के रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकें |

असंगठितकामगार मजदूर यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष डा० प्रमोद शुक्ला ने कहा कि सरकार श्रमिको को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये इसके लिये श्रमिको को आवाज उठाने की जरुरत है क्योकि कोरोना काल में श्रमिको को जीवन बहुत ही प्रभावित हुआ है |

बिल्डिंग एंड वुड वर्कर्स इंटरनेशनल (BWI) की तरफ से क़तर में लाइजनिंग ऑफिसर के रूप में अन्तर्राष्ट्रीय प्रवासी श्रमिको के मुद्दे पर कार्य कर रहे श्री प्रिंस वर्मा ने बताया कि क़तर में 05 लाख की आबादी है लेकिन इससे दुगनी आबादी एशिया से गये नागरिको और प्रवासी श्रमिको की है जिसमे सर्वाधिक संख्या भारतीयों की है और उन्होंने सेफ प्रवास पर विस्तृत रूप से चर्चा की |

कार्यक्रम में उपस्थित श्रमिक प्रतिनिधियों ने कोरोना काल में काम न मिलने और प्रभावित जीवन के बारे में विस्तृत चर्चा की | कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापित सतत शहर प्रोग्राम के समन्वयक आर विकास ने किया | कार्यक्रम में मुख्य रूप से धुनिया देवी, राजाराज, राजकुमार, लक्ष्मी देवी आदि लीग उपस्थित थे |

आर विकास, असंगठित कामगार मजदूर यूनियन, मो० 7007326651

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close