प्रयागराज

कैबिनेट मंत्री मा0 सिद्धार्थ नाथ सिंह हरवारा मीरापट्टी में डूडा विभाग द्वारा नवनिर्माणाधीन इंटरलॉकिंग मार्ग और नाली का निरीक्षण करने अचानक पहुँचे

रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज नैनी

मंत्री निरीक्षण के दौरान अधिकारियों और इंजीनियर पर भड़के और कड़ी चेतावनी दिया

प्रयागराज शहर पश्चिमी में सड़क और इंटरलॉकिंग मार्ग का जहां कहीं भी निर्माण होगा,बस्तियों में बिना नाली की कोई सड़क/इंटरलॉकिंग नहीं बनेगी और सड़कों के निर्माण में किसी भी प्रकार की अनियमितता पाई जाती है तो कोई भी अधिकारी बख्शा नहीं जाएगा यह बातें उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री मा0 सिद्धार्थ नाथ सिंह ने हरवारा मीरापट्टी में डूडा विभाग द्वारा नवनिर्माणाधीन इंटरलॉकिंग मार्ग और नाली का निरीक्षण करने अचानक पहुँचे।

मंत्री मा0 सिद्धार्थ नाथ सिंह ने हरवारा मीरापट्टी में डूडा विभाग द्वारा नव निर्माणाधीन इंटरलॉकिंग मार्ग एवं नाली का निरीक्षण के दौरान कहीं कहीं नाली न बनने और इंटरलॉकिंग मार्ग ऊंचा होने डूडा इंजीनियरों पर भड़के और कहा बिना बजट के इंटरलाकिंग मार्ग सही कराएं। हरवारा मीरापट्टी बस्तियों में बरसात का पानी भर जाने से लोगों का रहना कई वर्षों से दुश्वार हो जा रहा था। नगर निगम द्वारा पंपिंग मशीन से मंडी परिषद के तालाब में डालने के बाबजूद पानी निकासी की व्यवस्था एवं सीवर ड्रैनेज व्यवस्थित ढंग से न बने होने के कारण कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था। शासन से धन उपलब्ध कराकर ड्रैनेज और पानी निकासी के साथ मार्ग को व्यवस्थित ढंग से कराने की व्यवस्था का निर्देश दिया गया है। मोहल्लों में रहने वाले नागरिकों से भी अपील किया कि शासन के मंशानुरूप निर्माण में सहयोग करें।लगभग 40 मिनट तक शुरू से लेकर बाल मित्र स्कूल तक मार्ग और नालियों को देखा,जनता की कठिनाइयों से रूबरू हुए।मा0 मंत्री जी एक छोटे बच्चे से निर्माण को लेकर गुणवत्ता और कार्य के विषय में पूछा तो जबाब दिया कि सर सही नहीं बन रहा है नाली बनना चाहिए की नहीं तो बच्चे ने कहा नाली बनना चाहिए।निरीक्षण के दौरान शिम्मी नाम की महिला ने जमीन पर कब्जा कर माफिया द्वारा निर्माण कराने की शिकायत किया तो उपस्थित दरोगा ने साफ उत्तर न दे पाने पर कड़े रूप से कार्यवाही का निर्देश दिया। डूडा विभाग के अधिकारी और इंजीनियर को कड़े रूप से चेतावनी दिया कि मानक के अनुरूप और गुणवत्तापूर्वक और सीधी नाली एक बराबर पानी निकासी एवं इंटरलाकिंग मार्ग बनें।कहीं ऊँचा कहीं नीचा नहीं होने चाहिए। मैं फिर निरीक्षण करने आऊंगा।हर इंटरलाकिंग मार्ग में नाली अवश्य बनें।

इस मौके पर डूडा के परियोजना अधिकारी, सहायक अभियंता,जूनियर इंजीनियर लाल प्रताप सिंह,क्षेत्रीय पार्षद दीपक कुशवाहा,पार्षद अमरजीत सिंह,कमलेश गौतम,पवन श्रीवास्तव, सुनील श्रीवास्तव,पवन मिश्र, चन्द्रभूषण सिंह पटेल,धनंजय सिंह पटेल,लेखराज सिंह पटेल,रामजी शुक्ला, महिपत सिंह पटेल,रंजीव सिंह पटेल,रामानुज पाल, जगमोहन आर्या,विजय पुसवानी, मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी सहित क्षेत्रीय नागरिक उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close