मध्यप्रदेश

महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया की मानसिकता महिलाओं के प्रति अलाउद्दीन ख़िलजी की तरह”

कलयुग की कलम इन्दौर

“महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया नहीं बादशाह ज्योतिरादित्य ख़िलजी (सिंधिया) हैं”

 

“सांसद महाराज सिंधिया और भाजपा ने झॉंसी की रानी बनीं बच्चियों पर एफ़आइआर दर्ज कराकर ग़द्दार महाराज सिंधिया के ख़ानदान काला इतिहास दोहराया “

“ऐतिहासिक ग़द्दार सिंधिया को क्या म.प्र. की पुलिस क्लीन चिट देगी…..?”

क्या सिंधिया अलाउद्दीन ख़िलजी जैसा इतिहास बदलना चाहते हैं…?

 

कहॉं ग़ायब हैं बेटी पढ़ाओ -बेटी बचाओ वाले शिवराज मामा….?

इन्दौर,सांसद सिंधिया और भाजपा उम्मीदवार वार सिलावट का महिलाओं के प्रति दमनकारी चेहरा सामने आया हैं।सांसद सिंधिया के इशारे पर सिलावट और भाजपा ने झॉंसी की रानी लक्ष्मीबाई बनकर सिंधिया की सभा में आने पर बच्चियों पर पुलिस में एफ़आइआर दर्ज करके महिलाओं के प्रति और झॉंसी की रानी लक्ष्मीबाई के प्रति ज़हरीली भावना का प्रदर्शन किया हैं।आज से डेढ़ सौ साल पेहले भी इसी सिंधिया के पूर्वजों ने रानी लक्ष्मीबाई के साथ धोखा करके महिलाओं का अपमान किया हैं ।महाराजा सिंधिया की मानसिकता महिलाओं के प्रति अलाउद्दीन ख़िलजी की तरह विकृत हैं।महाराज सिंधिया में अलाउद्दीन ख़िलजी के समान सारे नौटंकी करने के गुण मौजूद हैं।रानी पद्मावती के साथ जैसा बर्ताव अलाउद्दीन ख़िलजी ने किया था वैसा ही रवैया महाराज सिंधिया का झॉंसी की रानी लक्ष्मीबाई के प्रति बादशाह ज्योतिरादित्य ख़िलजी (सिंधिया) का हैं।सांवेर की छोटी बच्चियों के ख़िलाफ़ एफ़आइआर कराने वाला बादशाह ज्योतिरादित्य ख़िलजी (सिंधिया) एंव गुलाम सिलावट को सांवेर की महिलाओं द्वारा करारा जवाब दिया जाएगा।यह प्रदेश अब झॉंसी की रानी लक्ष्मीबाई का अपमान नहीं सहेगा ।सन 1857 का बदला आज सन 2020 में आज के बादशाह ज्योतिरादित्य ख़िलजी (सिंधिया) से जनता तीन नवम्बर को लेकर झॉंसी की रानी लक्ष्मीबाई को सच्चा सम्मान प्रदान करेगी।सांवेर की बच्चियों पर एफ़आइआर करने के लिए मुख्यमंत्री माफ़ी मॉंगने यह सारे देशभक्तों एंव झॉंसी का रानी लक्ष्मीबाई का अपमान हैं।

राकेश सिंह यादव प्रदेशसचिव म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी भोपाल

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close