मध्यप्रदेश

त्रस्त अभिभावकों ने घेराव किया फिर सौंपा ज्ञापन,दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

महेंद्र सिंह पटेल सम्पादक कलयुग की कलम

कोर्ट की अवहेलना करते निजी स्कूल पर शासन की नरमदिली,नागरिकों से बेरहमी

कटनी।अभिभावक कल्याण संघ ने सोमवार को निजी शालाओं द्वारा की जा रही अवैध वसूली, न देने पर टीसी देने की और ऑनलाइन क्लास से वंचित करने की ब्लैकमेलिंग के खिलाफ तीखा विरोध दर्ज कराया और एसडीएम आफिस का सांकेतिक घेराव करते हुए अपना मांगपत्र सौंपा।शहर के व्यापारियों ने आंशिक बन्द रखते हुए आंदोलन को पूर्ण नैतिक समर्थन दिया।

सुभाषचौक पर एकत्रित संघ सदस्यों व अभिभावकों ने एक सभा की।जिसे जिलाध्यक्ष श्री पहारिया,ओमप्रकाश आहूजा,सायरा खान, पायल जेतवानी ने सम्बोधित किया।जिसमें आक्रोश व्यक्त किया गया कि,मार्च से अगस्त तक लॉक डाउन की अवधि की फीस लेने के लिए निजी स्कूल्स ने पेरेंट्स को विभिन्न हथकंडों से मजबूर किया है।यहां तक कि बच्चों के नाम काटने की,क्लास से अलग रखने की धमकी देकर जबरिया वसूली की गई।एमपी हाई कोर्ट ने पेरेंट्स के हित में जो दिशा निर्देश दिए हैं उनका पालन शाला प्रबंधन नहीं कर रहा।उनकी अवमानना पर जिला प्रशासन भी मूक बधिर बना है।इस सबके बीच मध्यम और निम्न मध्यम वर्ग को भारी आर्थिक संकटों से जूझना पड़ रहा है।

इसके बाद एक विरोध रैली ने कचहरी पहुंचकर एसडीएम आफिस के सामने नारेबाजी कर मांगों को पूरा करने की मांग की।

एसडीएम बलवीर रमन ने प्रदर्शनकारियों से मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन लिया।मांग पूरी न होने पर उग्र आंदोलन करने को चेतावनी दी गई।इस अवसर पर सर्वश्री रूपेश पहारिया,ओम प्रकाश आहूजा,पायल जेतवानी,साबिया खान,वंशिका ठारवानी, भूमिका मूलचंदानी, संजय गुप्ता, दीक्षित,पायल अग्रवाल,विनोद दुबे,मुकेश बर्मन,अमरेश सिह,अमित द्विवेदी,आशीष रैकवार,

अजय सोनी, सुनील कुशवाहा, इसरार खान,

दीपकसोनी,मनोज सोनी, व अन्य अभिभावक मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close