मध्यप्रदेश

“खाद्य अधिकारी को निलंबित करके बहाल करने का गेम प्लान मुख्यमंत्री द्वारा सहानुभूति टीआरपी बढ़ाने का नाकाम प्रयास”

  1. इन्दौर,म.प्र. के मुख्यमंत्री अपनी छवि सुधारने के लिए ठंडे खाने के बहाने एक अदने से खाद्य अधिकारी को निलंबित कराने के बाद खुद के बारे में नकारात्मक प्रचार योजना के बाद अपनी टीआरपी बढ़ाने एंव खुद को आम आदमी साबित करने एंव जनता की सहानुभूति प्राप्त करने के लिए नौटंकी करते हुए खाद्य अधिकारी को बहाल करके एक संवेदनशील मुख्यमंत्री साबित करने का गेम प्लान असफल हो गया।क्योंकि निलंबित होने वाले अधिकारी के चेहरे पर नाम मात्र को शिकन भी नही थी एंव इस अधिकारी को हिदायत दी गयी थी की मोबाइल पर किसी से भी बात बहाल होने के बाद ही करे ।गेम प्लान पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री की महानता के क़सीदे पढ़ें ।पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी की नक़ल करने में भी अक़्ल का इस्तेमाल होता हैं।लेकिन मुख्यमंत्री का सहानुभूति लूटो गेम प्लान असफल हो गया।क्योंकि दस साल से इन्दौर में एक ही पद पर जमें खाद्य अधिकारी पर अनेक अनियमितताओं के आरोप हैं।लॉकडाउन में ज़बरदस्त कालाबाज़ारी खाद्य पदार्थों की करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की हैं।इसके पश्चात भी मुख्यमंत्री के मन में सहानुभूति की लहर ऐसी आयी की जनता में अपनी टीआरपी बढ़ाने की कोशिश में भ्रष्ट अफसरो के आश्रय दाता बन गये ।जितने समय से मुख्यमंत्री शिवराज अपने पद पर क़ाबिज़ हैं लगभग उतने ही समय से उक्त खाद्य अघिकारी इन्दौर में क़ायम हैं।इस गेम प्लान के लिए किसी अन्य अधिकारी को चुनना था।सहानुभूति लूटो गेम प्लान चौपट हो गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close