मध्यप्रदेश

सांवेर में मानवता शर्मसार मंत्री सिलावट सत्ता के नशे में मदहोश

सांवेर में मानवता शर्मसार मंत्री सिलावट सत्ता के नशे में मदहोश

“सांवेर में मानवता शर्मसार मंत्री सिलावट सत्ता के नशे में मदहोश “
“मंत्री सिलावट को नोट के बदले वोट चाहिए वरना भूखे मरो शिवराज-सिंधिया-सिलावट प्रदेश को लूटने में व्यस्त”

“कलश यात्रा के लिए साड़ी कलश एक हज़ार नगद बॉंटने के लिए मंत्री तैयार भूख से मरते लोगों के लिए संबल योजना भी ग़ायब “

इन्दौर,म.प्र. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एंव गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा तथा सांवेर विधानसभा से जल संसाधन मंत्री इन्दौर में सत्ता के नशे में मदहोश होकर संबल योजना के नाम पर फ़र्ज़ी हितग्राहियों को दिखावे के लिए पैसा लूटा रहे थे।वहीं दूसरी तरफ़ मंत्री सिलावट के विधानसभा सांवेर में पिवड़ाय गॉंव में बुजुर्ग गरीब दम्पति ने दूध ख़रीदने के पैसे भी नहीं होने की वजह से ज़हर खाकर जान दे दी।साठ वर्षीय राधेश्याम कामदार एंव इनकी पत्नी शिवकन्या ने भूखमरी की वजह से आत्महत्या की हैं।दंपति का बेटा भी लॉकडाउन से बेरोज़गार हैं।
मानवता को शर्मसार करने वाली घटना तब घटी जब मुख्यमंत्री संबल योजना के नाम ग़रीबों को पैसा बॉंट रहे थे।संबल योजना सिर्फ़ भ्रष्टाचार का उपक्रम हैं जो भाजपा के कार्यकर्ताओं में पैसा बॉंटने का ज़रिया हैं।
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने आरोप लगाया हैं की मंत्री सिलावट उपचुनाव जीतने के लिए नर्मदा कलश यात्रा के बहाने साड़ी ,कलश ,गगरा,एंव एक हज़ार रू नगद के लिफ़ाफ़े बॉंट कर वोटों का सौदा करने में व्यस्त हैं वहीं सांवेर विधानसभा में जनता ग़रीबी के कारण आत्महत्या कर रही हैं।मंत्री सिलावट में अगर नैतिकता हैं तो तत्काल मंत्री पद से इस्तीफ़ा देकर सांवेर की जनता से माफ़ी मॉंगना चाहिए ।सत्ता के नशे में मदहोश मंत्री सिलावट सांवेर की जनता को मरने के लिए मजबूर कर रहे हैं।मुख्यमंत्री निराघर बातों से जनता को प्रताड़ित करके अपमानित कर रहे हैं।मुख्यमंत्री के तौर पर शिवराज सबसे असफल एंव संवेदनहीन साबित हुए हैं।प्रदेश में कोरोना एंव भूखमरी से मरने के लिए सिंधिया मुख्य रूप से ज़िम्मेदार हैं।आज जनता सांवेर में मर रही हैं लेकिन सिंधिया सिलावट नोट के बदले वोट ख़रीदने में व्यस्त हैं।प्रदेश और सांवेर की जनता माफ़ नहीं करेगी।जनता का खून बह रहा हैं करारा जवाब मिलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close