मध्यप्रदेश

किशोर की हत्या मामले का पर्दाफाश।।आरोपी गिरफ्तार।।

कैमोर थाना क्षेत्र के ग्राम सुरमा से दिनाँक 17/7/2020 को 12 वर्षीय किशोर सुग्रीव उर्फ बादल की अंधी हत्या के आरोपी की गिरफ्तारी पर पुलिस ने गुरुवार को मामले का खुलासा किया।
दिनाँक 17/7/20 को सुरमा ग्राम से सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम सुरमा की पहाड़ी मैं 12 वर्षीय किशोर बादल नामक लड़के की लाश पड़ी हुई है।तत्कालीन मोके पर पुलिस ने पहाड़ी की झाड़ियों मैं छुपी लाश का पंचनामा तैयार पोस्टमार्टम के लिये भेजा।उक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए थाने मैं अज्ञात आरोपी के विरुद्ध 302 व 201 के तहत मामला कायम कर मामले को गंभीरता से विवेचना मैं लिया गया।विवेचना दौरान ठोस सबूत न मिलने पर ग्रामवासियों से पूछताछ की गई।व परिजनों से पूछताछ पर परिवारजनों ने बताया कि तारिख 16 को सुबह के समय मृतक किशोर बादल गायों को चराने हेतु पहाड़ी गया हुआ था ततपश्चात अपने सहपाठियों के साथ खेलना पाया गया।तदोउपरांत संधया के समय जब बालक का आगमन नही हुआ तो घर के सदस्यों के द्वारा ग्राम की गलियों व अन्य जगह ढूढा गया।अगले दिन ग्राम निवाशी प्यारेलाल ने पहाड़ी की झाड़ियों मैं किशोर बादल को झाड़ियों मैं मृत अवस्था मे पाया तत्तकालीन पुलिस को सूचित किया गया।थाने मैं मामला पंजीकृत होने पर जिला पुलिस कप्तान ललित शाक्यवार के निर्देशन पर अनुविभागीय अधिकारी पुलिस शिखा सोनी, एस एफ एल अधिकारी अवनीश सिसोदिया,थाना प्रभारी कैमोर पंकज शुक्ला की संयुक्त टीम के द्वारा विवेचना की गई ।विवेचना उपरांत पता चला कि मृतक बादल की बड़ी बहन रोशनी के बिगत 1 वर्षो से ग्राम निवाशी संजय चौधरी से अवैध संबध थे।मृत किशोर ने सबंधो की जानकारी माँ एभं बड़े भाई को दी जिस पर रोशनी को विगत डेढ़ माह पूर्व बड़ी मम्मी के घर बुढावर भेज दिया गया।जिस पर कई बार प्रेमी संजय चौधरी द्वारा बुढावर पहुच रोशनी को कहा गया कि अगर तुम मेरे साथ नही गई तो में तुम्हारे भाई की हत्या कर दूंगा।।ओर दिनाँक 16 को संजय चौधरी ने बादल को अकेला देख गला दवाकर व पत्थर से चोटिल कर हत्या कर दी।व मृत शरीर दिख न पाए इसके लिए झाड़ियों मैं छुपा दिया जिससे कोई देख न सके।।
उक्त अपराध मैं आरोपी संजय चौधरी को बचाने मैं पिता लल्ला चौधरी द्वारा मदद की गई।उक्त अपराध का खुलाशा करते हुए दोनों आरोपियों को न्यायालय मैं पेश कर जैल भेज दिया गया है।
उक्त प्रकरण मैं पतासाजी एभं आरोपियों की गिरफ्तारी मैं थाना प्रभारी पंकज शुक्ला उप नि एन एल परते सउनि अनिल पांडेय आरक्षक श्याम बिहारी तिवारी,जगदीश पांडेय,रामकरण तिवारी,प्रेमशंकर पटैल,सनिल सोनी,अंजनी झा,भावना तिवारी सहित इत्यादि समस्त स्टाफ का सहयोग प्रार्थनीय रहा।।
उक्त प्रकरण की विवेचना मैं भरकम प्रयाश व पतासाजी हेतु 10000 रुपये के नगद इनाम देने की घोषणा की है।।

मोहित सोनी पत्रकार कैमोर

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close