UNCATEGORIZED

नालायक है लोहारी का उपसरपंच नाना और भ्रष्टाधिराज पंचायत सचिव*

कलयुग की कलम

नालायक है लोहारी का उपसरपंच नाना और भ्रष्टाधिराज पंचायत सचिव

 

पंडित प्रदीप मोदी

(साहित्यकार/स्वतंत्र पत्रकार)

9009597101

अब जो कहानी उभरकर सामने आती जा रही है,उससे स्पष्ट होता जा रहा है कि मध्यस्थता करके माल कमाने की नीयत रखने वाले ग्राम पंचायत लोहारी के उपसरपंच और महाभ्रष्ट पंचायत सचिव ने गरीब किसान के खिलाफ षड़यंत्र रचा और अधिकारियों ने एक गरीब किसान की घर-गृहस्थी तबाह कर दी। बताया जा रहा है पटवारी ने बर्बाद हुए किसान के छोटे भाई को नोटिस देकर उससे दो लाख रुपए की मांग की थी, क्या बर्बाद हुए किसान का छोटा भाई दो लाख रुपए नहीं दे पाया,इसलिए उसके बड़े भाई को बर्बाद कर दिया गया? यदि पटवारी ने दो लाख रुपए मांगे थे तो कह सकते हैं,उपसरपंच, पंचायत सचिव और पटवारी का इतना हाजमा मजबूत नहीं कि ये टट्पुंजिए दो लाख हजम कर जाए?तो क्या मान लिया जाए कि इस मांगी गई राशि में नायब तहसीलदार वगैरह का भी हिस्सा था ?तो फिर जनता को पता तो चले कि इस निरीह किसान परिवार के प्रति अधिकारियों का इतना आक्रोश क्यों रहा कि उसे अपना पक्ष रखने का मौका तक नहीं दिया गया? यह परिवार मुझसे जुड़ा है तो इसकी पीड़ा मेरी कलम के माध्यम समाज के सामने भी आ पा रही है, वरना कल्पना की जा सकती है कि आदिवासी बहुल इलाकों में ये टट्पुंजिए नेता और भ्रष्ट अधिकारी भोले-भाले ग्रामीणों के साथ क्या व्यवहार करते होंगे? धार जिले की कुक्षी तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम लोहारी को ही लो एक किसान परिवार उपसरपंच,पंचायत सचिव और अधिकारियों की मक्कारी का शिकार होकर अपनी बर्बादी पर आंसू बहा रहा है, लेकिन किसी भी जिम्मेदार की आंख में शर्म का कतरा तक नजर नहीं आ रहा है। इस किसान परिवार का दुर्भाग्य देखो कि इसी के गांव के उपसरपंच और पंचायत सचिव ने इस परिवार की बर्बादी की पटकथा लिखी और अयोग्य अधिकारियों ने उस पर हस्ताक्षर कर दिए। उपसरपंच को लोहारी मेंं नाना के नाम से जाना जाता है और किसान परिवार की बर्बादी के बाद कहा जा रहा है,नालायक है ग्राम पंचायत लोहारी का उपसरपंच नाना और भ्रष्टाधिराज पंचायत सचिव।

**********

Related Articles

error: Content is protected !!
Close