UNCATEGORIZED

गुरुद्वारे को सिख संगत को देने की मांग  साहिबाबाद 

कलयुग की कलम

गुरुद्वारे को सिख संगत को देने की मांग

साहिबाबाद

उद्यमी एवं साहिबाबाद से पार्षद निर्मल सिंह नामधारी ने अल्मोड़ा स्थित एक गुरुद्वारे को सिख संगत को देने की मांग स्थानीय सांसद अजय टम्टा से की है।

साहिबाबाद के प्रमुख उद्यमी एवं नामधारी समाज के प्रमुख व्यक्ति निर्मल सिंह नामधारी ने अल्मोड़ा के सांसद अजय टम्टा से मिलकर वहां के एक गुरुद्वारे की भूमि को सिख संगत को देने की मांग की है। नामधारी ने अजय टम्टा से मिलकर बताया कि अल्मोड़ा में एक 500 साल पुराना गुरुद्वारा है। इस गुरुद्वारे का बड़ा महत्व है ।जब गुरु नानक देव पौड़ी गढ़वाल गए थे तब अल्मोड़ा के चांद वंश के राजा ने उन्हें अल्मोड़ा आमंत्रित किया था। लेकिन उस समय अल्मोड़ा में नरबलि देने की प्रथा थी। इससे नानक जी ने यह बात राजा के सामने रखी के पहले नर बलि की प्रथा बंद की जाए तभी वह उनके यहां आ सकते हैं। राजा ने नर बलि न देने की बात मानी। यह गुरुद्वारा नानक देव जी की अल्मोड़ा की याद को ताजा करता है।

लेकिन यह गुरुद्वारा उपेक्षित है तथा विभिन्न लोगों द्वारा इस की भूमि पर नाजायज कब्जा कर रखा है। इसलिए इस महत्वपूर्ण गुरुद्वारे को सिख संगत को दिया दे दिया जाए। सिख समाज उक्त भूमि का कोई भी मूल्य जो सरकार बताएगी उसको देने की तैयार है।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close