UNCATEGORIZED

पुलिस जबान के लड़के के ट्वीट पर अभिनेता सोनू सूद ने दिल्ली में भर्ती मरीज के लिए दुबई से मंगाया इंजेक्शन रामनरेश शर्मा

कलयुग की कलम

पुलिस जबान के लड़के के ट्वीट पर अभिनेता सोनू सूद ने दिल्ली में भर्ती मरीज के लिए दुबई से मंगाया इंजेक्शन रामनरेश शर्मा

सतना।।यूथ अपडेट।।कहते हैं कि होनहार विरबान के होत चीकने पात* कहावत को चरितार्थ करते हुए चित्रकूट निवासी हाल मुकाम सतना पुलिस कॉलोनी दीपक पांडेय ने अपने पिता के बताए गए पदचिन्हों पर चलते हुए आज यथार्थ सावित कर दिखाया है एक तरफ जहां वैश्विक आपदा कोरोना कोविड महामारी के चलते पूरे देश में लाकडाउन जैसे हालात पर सोसल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से मरीजों एवं उनके परिजनों के लिए एक बरदान से कम नहीं सावित हो रहा है इसी का सहारा लेते हुए दीपक पांडेय ने दिल्ली में भर्ती एक अनजान व्यक्ति के मदद के लिए जो गंभीर कोविड मरीज था सतना से दीपक पांडेय ने ट्वीट कर फ़िल्म अभिनेता सोनू सूद से मदद मांगी और एक्टर सोनू सूद ने रातों रात दुवाई से रेयर इंजेक्शन मंगाकर दिल्ली भेजा जिस इंजेक्शन के लिए उनकी पत्नी दिल्ली के सड़कों पर भटक रही थीं।दीपक ने बताया कि उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से पता चला कि दिल्ली के अकाश हेल्थ केयर अस्पताल में बिहार निवासी अनुप्रकाश के पति गंभीर हालत में भर्ती हैं अनु दिल्ली की सड़कों पर टोसिली जुमब इंजेक्शन के लिए भटक रही हैं दीपक ने टीबी एक्टर गुरुमीत व फ़िल्म अभिनेता सोनू सूद को टैग कर मदद मांगी एक्टरों ने फोन पर दीपक से मरीज की डिटेल मांगी और 12 घंटों में इंजेक्शन का इंतजाम कर मरीज के पास दिल्ली भेजा औऱ किफायती बात यह रही कि भारत में वह इंजेक्शन नही मिलने पर दुवाई से मंगवाया इसके लिए हमारे पत्रकारों की टीम भी नेकदिल इंसान फ़िल्म अभिनेता सोनू सूद की तहे दिल से तारीफ करते हैं।

सड़कों पर भटकना बंद करें अनु* सोनू सूद ने करीब एक लाख रुपए के इंजेक्शन को शनिवार सुबह तक निःशुल्क दिल्ली पहुंचा दिया महिला के पास इंजेक्शन पंहुचने के बाद उन्होंने दीपक को भी इसकी जानकारी दी और ट्वीट कर बताया कि सड़कों पर भटकना बंद इंजेक्शन दिल्ली भेज दिया है इंजेक्शन मिलने पर महिला की आंखों से खुशी के आँसू निकल पड़े।

इस बात की जानकारी जब दीपक के पिता को लगी

सतना एम पी निवासी दीपक पांडेय के पिता एएसपी सुरेंद्र जैन के सीनियर वाहन चालक पुलिस ड्राइवर भैरों प्रसाद पांडेय के पुत्र हैं।कामतन निवासी भैरों पांडेय चित्रकूट की अति पावन धरा पवित्र नगरी कामतानाथ स्वामी के यहां से विलोंग करते हैं और उनके निवास की चौखट धरा भी एक मंदिर से कम कामदगिरि से कम पवित्र नहीं है इसका जीता जागता उदाहरण स्वयं हम है जिसके प्रत्यक्ष प्रमाण की आवश्यकता नही है हम यानी लेखक स्वयं प्रमाण दे रहे है।जिसका जीता जागता उदाहरण स्वयं हैं।पिता को जब इस बात की जानकारी लगी कि बड़े वेटे दीपक ने घर बैठे दिल्ली में भर्ती एक अनजान व्यक्ति मरीज की मदद की है तो उनकी इस खुशी के इजहार करने का ठिकाना न रहा हो भी क्यों न भैरों स्वयं ही एक ईमानदार और प्रतिष्ठित व्यक्तित्व के धनी व्यक्ति हैं दूसरों की मदद के लिए अपना कार्य छोड़कर सदा अग्रसर रहते हैं।हमारे मार्गदर्शक जीवन दाता दयालु दीन दुखियों की मदद करने वाले नाम की तरह काम के भी भैरों हैं।इसीलिए कहते हैं कि होनहार विरबान के होत चीकने पात

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close