मध्यप्रदेश

सतना में लुटा मऊगंज का अतिथि विद्वान सोते वक्त किसी अज्ञात व्यक्ति ने उड़ा दिया बैग बैग में रहे कपड़े, आवश्यक दस्तावेज, पर्स व मोबाइल भी

कलयुग की कलम

👇🏿सतना में लुटा मऊगंज का अतिथि विद्वान

सोते वक्त किसी अज्ञात व्यक्ति ने उड़ा दिया बैग

बैग में रहे कपड़े, आवश्यक दस्तावेज, पर्स व मोबाइल भी

सतना, (कलयुग की कलम)।शासकीय शहीद केदारनाथ महाविद्यालय का एक अतिथि विद्वान यहां सतना के बस स्टैंड स्थित रैन बसेरा के पीछे सचिन पैलेस वाली गली में सोते वक्त लुट गया। घटना 4 मई 2021 के रात की है। छतरपुर हाल मुकाम इंद्रानगर मऊगंज जिला रीवा निवासी फरियादी अतिथि विद्वान बृजेश कुमार पिता काशी प्रसाद सेन के मुताबिक वह अपने गृह जिला छतरपुर से 4 मई 2021 को बस से देर शाम सतना बस स्टैंड पहुंचा। यहां से उसे इसी दिवस शासकीय शहीद केदारनाथ महाविद्यालय मऊगंज अपनी ड्यूटी ज्वाइन करने जाना था, लेकिन कोई बस न होने के कारण वह रैन बसेरा के पीछे सचिन पैलेस वाली गली में गया और अपने एक बैग को तकिया बनाकर चबूतरे में जाकर लेट गया। दिनभर की थकान होने के कारण उसकी नींद लग गई। बृजेश कुमार ने बताया कि जब उनकी नींद टूटी तो सर के नीचे रखा उसका बैग मौके से गायब मिला। बैग में 4 शर्ट, 3 पैंट, 1 टीशर्ट, चश्मा, बेल्ट व पर्स जिसमें एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, ड्रायविंग लायसेंस, वोटर आईडी, पासपोर्ट फ़ोटो, नगदी 1470/- रूपये व लोवर की जेब में रखा मेमोरीकार्ड सहित एयरटेल सिम नम्बर 9993450 763 से लैस आईटेल कंपनी का मोबाइल रखा था। इस वारदात के बाद उसके होश उड़ गए। इस दौरान उसे कुछ भी नहीं सूझा। मौके पर नजर आए एक सज्जन व्यक्ति से जब उन्होंने आप बीती घटना से अवगत कराया तो उन्होंने भोजन के लिए 10 रुपए का सहयोग किया। भोजन करने के बाद उन्होंने अन्य दूसरे व्यक्ति के मोबाइल से अपने एक रिलेटिव को घटना की जानकारी दी। रिलेटिव ने आकर मुझे कुछ सहयोग राशि दी, तब दूसरे दिन वह किसी तरह बस के जरिए मऊगंज पहुंचे। वहां महाविद्यालय में अपनी ड्यूटी ज्वाइन करने के बाद हम पुनः अपने गृह जिला छतरपुर वापस हो गए। जानकारी के अभाव में वह इस घटना की सूचना (शिकायत) भी वह संबंधित थाने में नहीं दर्ज करवा सके। उन्होंने बताया कि इस बीच उनका संपर्क मोबाइल के जरिये सतना के पत्रकार ओपी तीसरे से हुआ, जिन्होंने हमारी समस्या को गंभीरता से सुनते हुए मुझे अपना मार्गदर्शन दिया। उनके कहने पर हमने संबंधित थाना कोलगवां कोतवाली के नगर निरीक्षक देवेंद्र प्रताप सिंह से उनके मोबाइल पर सम्पर्क किया और वस्तुस्थिति से उन्हें अवगत भी करवाया। उन्होंने उनकी समस्या को अपने संज्ञान में लिया और बोले आपने इस आशय की सूचना थाने में क्यों नहीं दी। जब हमने उन्हें इसकी वजह बताई तो उन्होंने कहा कि आपको यहां थाने आकर अपनी शिकायत दर्ज करवानी पड़ेगी। यह भी कहा उनसे जो भी मदद होगी वह बराबर करेंगे। अतिथि विद्वान बृजेश कुमार सेन ने बताया कि लॉकडाउन के चलते वह तो सतना नहीं पहुच सकेंगे, लेकिन सोमवार 10 मई 2021 को वे अपने गृह जिला छतरपुर से इस आशय की शिकायत रजिस्टर्ड डाक पोस्ट से सम्बंधित थाना को प्रेषित कर देंगे और मौका देख टीआई साहब से व्यक्तिगत संपर्क भी कर लेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close