उत्तरप्रदेश

गौ सेवा ही स्वर्ग की कुंजी -सरदार पतविंदर सिंह रिपोर्टर आज चंद्र पटेल प्रयागराज

कलयुग की कलम

प्रयागराज नैनी समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह जो पिछले 25वर्षों से राष्ट्र की निरंतर सेवा विभिन्न माध्यमों से करते आ रहे हैं उन्होंने गौ सेवा का जो व्रत लिया वह निरंतर चलता जा रहा हैl

कोरोना महामारी में भी प्रतिदिन गौ सेवा को अपनी दिनचर्या बनाकर गौ सेवा में महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं बताते चलें समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह प्रति वर्ष अप्रैल माह में लोकसभा,राज्यसभा सदस्यों को पोस्टकार्ड के माध्यम से पत्र लिखकर बराबर मांग करते हैं कि गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग बराबर करते आ रहे हैं गौ हत्या बंद हो एवं गो को राष्ट्र पशु घोषित करने की समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह मांग करते हैं सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि गोवंश की रक्षा ही जीवन की रक्षा है गाय की हत्या किसी भी स्तर पर उचित,न्याय संगत और तर्कसंगत नहीं है गाय की रक्षा और उसके वंश का वर्धन ही समाज और राष्ट्र की रक्षा कर पाएगा हम सब संकल्प लें कि गाय को माता का “मान और सम्मान” देते हुए सदैव उसकी रक्षा करेंगे l पतविंदर सिंह ने कहा कि वर्तमान में जब गायों की स्थिति को देखता हूं तो बहुत दुख होता है हमें पोषक आहार देने वाली गाय खुद प्लास्टिक खाती हुई दिख जाती है आज जरूरत है कि गाय को बचाने की और सांस्कृतिक को संरक्षित करने की जरूरत है उनका कहना है कि गाय अन्बोलता हुआ धन है इसकी रक्षा करना हम सबका दायित्व का समय आ गया है गाय के महत्व को धर्म,जाति,समुदाय के भाव से ऊपर उठकर राष्ट्रहित में समझना जाए क्योंकि गाय किसी धर्म विशेष की परिचायक नहीं है बल्कि पूरी मानवता के लिए आवश्यक हैl

मनोज कुमार मौर्य ने कहा कि धरती पर जन्म लेने वाला हर बच्चा इस बात का आश्वासन है कि ईश्वर अभी भी इंसान से निराश नहीं हुआ है lआज आक्सीजन का महत्व समझे पेड़ लगायें,जल बचायें,जीवन बचायें।

धर्मेंद्र पटेल ने कहा कि हम सब बहुत ही विषम परिस्थिति से गुजर रहे हैं,चारों तरफ एक अज्ञात सा भय व्याप्त है,जो चिंताजनक स्थिति पैदा कर रहा है।हरमन जी सिंह ने कहा कि इस स्थिति में हमें धैर्य और समझदारी से काम लेना है,स्थितियां प्रतिकूल नही हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि हार मान लिया जाय। थोड़ी सी सावधानी और समझदारी से हम स्वयं सुरक्षित रह सकते हैं और दूसरों को भी सुरक्षित रख सकते हैं।दलजीत कौर ने कहा कि एक दूसरे से फ़ोन पर सम्पर्क बनायें रखें और मन को अच्छे विचारों से परिपूर्ण रखें। सारी सावधानियों का पालन जरूर करें, प्रभु पर विश्वास रखें और सकारात्मक ऊर्जा और सोच बनायें रखें।योगेंद्र पटेल ने कहा कि आप अपने परिवार के साथ-साथ हमारे लिए भी बहुत महत्वपूर्ण हैं। सकारात्मक विचारों को गति देते रहें।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close