मध्यप्रदेश

“इन्दौर में धारा 144 एंव मास्क जुर्माना को खुली चुनौती राजबाडा स्थित अहिल्या बाई की मूर्ति के सामने कानुन तोड़ने का दुस्साहस “

कलयुग की कलम

“इन्दौर में धारा 144 एंव मास्क जुर्माना को खुली चुनौती राजबाडा स्थित अहिल्या बाई की मूर्ति के सामने कानुन तोड़ने का दुस्साहस “

“मॉं अहिल्या की प्रतिमा पर लिखे विचारों का हवन की नौटंकी करके मॉं अहिल्या द्वारा जनसेवा के कार्यों का अपमान मंत्री द्वय ने किया”

इन्दौर,विनाश काले विपरीत बुद्धि को साक्षात प्रमाणित करते हुए केबिनेट मंत्री ऊषा ठाकुर एंव तुलसी सिलावट ने यह साबित कर दिया हैं की भाजपा की शिवराज सरकार में क़ानून का चीरहरण करना शिवराज के मंत्रियों का शौक़ हैं।

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने आरोप लगाया हैं की कोविड के नियमों की धज्जियाँ उड़ाते हुए दो पूर्व केबिनेट मंत्री राजबाडा में धारा 144 का खुला उल्लंघन करते हुए अहिल्या प्रतिमा के सामने छह लोग हवन करके प्रशासन के आदेश को खुलेआम चुनौती दे रहे हैं।मास्क पहनाने के नाम पर दौ सौ रूपये का चालान काटने वाली नगरनिगम की पीली गैंग भी नदारत हैं।ये चित्र नगरनिगम की पीली गैंग को पहुँचाकर निवेदन किया हैं की केबिनेट मंत्री ऊषा ठाकुर का मास्क न पहनने के लिए जुर्माना वसूल जाये एंव धारा 144 का उल्लंघन करने पर धारा 107 या धारा 151 के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज किया जाना चाहिए ।राजनैतिक नौटंकी का हवन करा रहे पंडित ने भी मास्क नाक से नीचे कर रखा हैं।निगम पंडित पर भी मास्क जुर्माना लगाये।मंदिरों में प्रशासन ने पाठ-पूजन बंद कर रखा हैं तो क्या वजह हैं की बिना अनुमति राजबाडा स्थित देवी अहिल्या प्रतिमा के सामने अवैध हवन करना आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एक्ट का उल्लंघन करने का प्रकरण भी दर्ज किया जाना चाहिए।मुख्यमंत्री से सवाल हैं की क्या क़ानून का पालन सिर्फ जनता को ही करना हैं,शिवराज सरकार के मंत्रियों को क़ानून तोड़ने की खुला छूट हैं ?
अहिल्या प्रतिमा के सामने हवन की नौटंकी करने वाले मॉं अहिल्या की चरणों में बैठकर भी जनहित की शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाये।प्रतिमा स्थल जहॉं हवन की राजनैतिक नौटंकी की जा रही हैं वहॉं देवी अहिल्या के अनमोल वचन लिखे हैं की “में अपने प्रत्येक काम के लिए स्यंम ज़िम्मेदार हूँ, सत्ता और सामर्थ्य के बल पर मैं जो कुछ भी यहॉं कर रही हूँ,उसका ईश्वर के यहॉं मुझे जवाब देना पड़ेगा।मेरा यहॉं कुछ नहीं हैं।जिसका हैं उसी के पास भेजती हूँ।मैं कुछ लेती हूँ वह मेरे ऊपर ऋण हैं।न जाने उसे कैसे चूका पाऊँगी ।”
इतने महान विचारों के सामने जनता के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी से भाग खड़े हुए शिवराज सरकार के मंत्री जनता की मदद की जगह हवन की नौटंकी करके अपना कौन सा दायित्व निभा रहे हैं समझ से परे हैं।जनता की अस्पताल और दवाईयों के लिए तडफ कर मृत्यु हो रही हैं लेकिन मंत्री द्वय सत्ता और सामर्थ्य के दम पर क़ानून तोड़कर जनता के दुखों पर नमक छिड़क रहे हैं।मॉं अहिल्या एंव इन्दौर की जनता ऐसे मंत्रियों को कभी माफ़ नहीं करेगी ।

राकेश सिंह यादव

प्रदेशसचिव

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी

भोपाल

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close