मध्यप्रदेश

सतना पुलिस पर लगा बेकसूरों को अपराधी बनाने का आरोप 

कलयुग की कलम

सतना पुलिस पर लगा बेकसूरों को अपराधी बनाने का आरोप

ब्याज पर दी गई रकम का तगादा करने गए बेटे को पुलिस ने ड्रग्स के फर्जी प्रकरण में अरझाया

फरियादी मां ने मांगा एसपी से इंसाफ

कलयुग की कलम

सतना पुलिस अब बेकसूरों को अपराधी बनाने का धतकरम कर रही है। ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। सिटी कोतवाली पुलिस की कथित ज्यादती के शिकार हुए धीरू गुप्ता की फरियादी मां मीना गुप्ता ने इस मामले में एसपी धर्मवीर सिंह यादव को प्रेषित अपने एक लिखित शिकायती आवेदन में इंसाफ दिलाए जाने की मांग की है।

फरियादी मां का आरोप है कि सतना की सिटी कोतवाली पुलिस ने उसके बेटे धीरू के साथ न केवल ज्यादती की, बल्कि ड्रग्स के एक फर्जी मामले में उसे अरझा भी दिया है। मां ने अपनी इस फरियाद में बताया कि उसका बेटा धीरू अपने एक मित्र रोहन सोंधिया के साथ 2 अप्रैल 2021 को बजरहा टोला निवासी अरुण वंशकार के घर बतौर ब्याज दी गई राशि 30 हजार रुपए का तगादा करने गया हुआ था। इस दौरान कर्जदार अरुण वंशकार ने रकम लौटाने की बजाय मित्र सहित उसके बेटे के साथ गालीगलौज करते हुए मारपीट करने लगा।

फरियादी मां का कहना था कि कथित गुंडागर्दी की शिकायत करने जब उनका बेटा अपने मित्र के साथ घटना दिनांक 2 अप्रैल की शाम लगभग 7 बजे सिटी कोतवाली पहुचे, तो पुलिस ने शिकायत दर्ज करने के पहले ही गालीगलौज से उनकी आवभगत शुरू कर दी। जिस पर उसके बेटे ने आपत्ति जताई और कहा यदि हमारी शिकायत नहीं दर्ज की गई तो वह पेट्रोल डालकर आत्महत्या कर लेगा। इस पर पुलिस और आग बबूला हो गई और मित्र सहित उसके बेटे को पकड़कर कोतवाली में बैठा लिया गया।

फरियादी मां ने यह भी अवगत कराया कि कोतवाली पुलिस ने इस दौरान बेटे के कर्जदार रहे अरुण वंशकार व बबलू नामक व्यक्ति को कोतवाली तलब किया और रात लगभग 10 बजे तक बैठाए रखा। बाद में पता चला कि उसके बेटे को छोड़ पुलिस ने ले-देकर कोतवाली तलब किए गए दोनों व्यक्तियों को रिहा कर दिया।

फरियादी मां ने यह भी कहा कि बेटे के कोतवाली में होने की सूचना पर जब वह रात लगभग 12 बजे मौके पर पहुंची तो पुलिस ने उसके साथ भी अभद्रता की। निराश होकर देर रात वह घर लौट आई और दूसरे दिन 3 अप्रैल को पुनः अपने बेटे से मिलने कोतवाली गई। तब बेटे ने उसे बताया कि पूरी रात पुलिस ने उसकी बंद कमरे पर धुनाई की है और 80 नग नशीली कफ सिरप की जप्ती दर्शा उसे ड्रग्स के फर्जी मामले में अरझा दिया है।

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close