उत्तरप्रदेश

नगर निगम कार्यकारिणी कक्ष में माननीया महापौर प्रयागराज अभिलाषा गुप्ता नन्दी जी की अध्यक्षता में प्रेस वार्ता आयोजित की गई । जिसमे निम्न फैसले लिए गए ,रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज

कलयुग की कलम

प्रयागराज वर्तमान में कोरोना वायरस का प्रकोप प्रयागराज शहर में पुनः दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है नगर निगम प्रयागराज द्वारा गृह कर की मासिक किराया दरों में 75% वृद्धि करने का प्रावधान किया गया था । माननीय कार्यकारिणी की बैठक में यह निर्णय लिया गया था कि किसी भी दशा में 35% से अधिक मासिक किराया दरों में वृद्धि ना की जाए । जबकि वर्तमान में शासन द्वारा जीआईएस सर्वे हेतु निर्धारित एजेंसी द्वारा प्रयागराज नगर निगम सीमा अंतर्गत स्थित भवनों के सर्वे का कार्य आज तक पूर्ण नहीं किया जा सका है । इसके अतिरिक्त नगर निगम प्रयागराज द्वारा कमर्शियल भवनों पर करारोपण का कार्य आज भी पूर्ण रूप से निस्तारित नहीं किया जा सका है । सर्वे का कार्य विस्तारित क्षेत्र सहित पूर्ण किया जाए सभी भवनों को गृहकर की परिधि में लाते हुए ग्रह कर की वसूली की जाए ।

यहां यह भी उल्लेखनीय है कि अन्य नगर निगम हो जैसे कानपुर, लखनऊ, वाराणसी, आगरा, गाजियाबाद, बरेली तथा मुरादाबाद में भी गृहकर की मासिक किराया दरों में वृद्धि के प्रस्ताव लाए गए थे, जिन्हें कोरोना महामारी के दृष्टिगत स्वीकार नहीं किया गया ।

वर्ष 2020-2021 में भी पुराना महामारी के कारण गृह कर की मासिक किराया दरों में वृद्धि को नगर की जनता की आर्थिक स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए स्थगित कर दिया गया था । वर्तमान में भी कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए जनहित में मासिक किराया दरों की वृद्धि स्थगित की जाती है ।इस अवसर पर माननीय कार्यकारिणी सदस्य उपाध्यक्ष नगर निगम अखिलेश सिंह, कार्यकारिणी सदस्य कमलेश तिवारी, जगमोहन गुप्ता, रिंकी यादव, मोहम्मद आजम, नन्दलाल, रोहित मालवीय, अमरजीत सिंह उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close