मध्यप्रदेश

मॉस्क नहीं तो बात नहीं का संकल्प लें : सतना कलेक्टर

कलयुग की कलम

मॉस्क नहीं तो बात नहीं का संकल्प लें : सतना कलेक्टर

सतना।

कलेक्टर अजय कटेसरिया ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि प्रदेश के विभिन्न जिलों के साथ सतना जिले में भी कोरोना संक्रमण तेजी से पैर पसार रहा है। वैक्सीनेशन के साथ ही मॉस्क का उपयोग कोरोना से बचने का अचूक इलाज है।

सतना कलेक्टर ने आग्रह किया है कि सभी लोग संकल्प लें कि ‘‘मास्क नहीं तो बात नहीं’’ के सूत्र को अपनायें। अर्थात बिना मास्क लगाए किसी भी परिचित या अपरिचित व्यक्ति से वार्तालाप नहीं करें। उन्होने बताया कि जिले के 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्ति 1 अप्रैल 2021 से कोविड को टीका लगवाने के पात्र हो गए हैं। जिले के 41 केन्द्रों में निःशुल्क टीकाकरण किया जा रहा है। साथ ही निजी केन्द्रों में 250 रूपये शुल्क लेकर टीका लगाया जा रहा है। टीकाकरण करवाने के लिये ऑनलाइन बुकिंग भी की जा सकती है।

उन्होंने सभी से आग्रह किया है कि टीका जरूर लगवाएं। मैने भी टीका लगवाया है। पहला टीका लगवाने के 21 दिन बाद मैने एंटीबॉडी टेस्ट करवाया। जिसमें स्पष्ट हुआ कि कोविड की एंटीबॉडी पहले टीके से ही बन चुकी थी। टीकाकरण के अच्छे और सकारात्मक परिणाम देखने में आ रहे हैं। साथ ही जो भी लोग त्यौहार के दौरान प्रदेश के बाहर से जिले में आए हैं, कोविड का संक्रमण उनके कारण बढ़ा है। उन्होने आग्रह किया कि आप सब प्रण लें कि ‘‘मास्क नहीं तो बात नहीं’’। जिस भी व्यक्ति से हम बात करें, खासकर उसकी ट्रैवल हिस्ट्री हो तो उससे बात करने से परहेज करें या मॉस्क लगाकर बात करें। अक्सर जो भी व्यक्ति हमारा परिचित होता है, उसके सामने हम निर्भीक हो जाते हैं। हो सकता है उसको कोई लक्षण नहीं हो, पर उसको यदि कोविड होगा तो उससे अगर आपको कोविड हुआ तो आप में लक्षण आ सकते हैं। आपकी तबियत ज्यादा खराब हो सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close