UNCATEGORIZED

लक्ष्मी की भ्रष्टाचारी पड़ रही विभाग पर भारी ,रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज

कलयुग की कलम

संविदा समाप्ति के बावजूद सेवारत।

तीसरे जिले से ह्वाट्सएप से ड्यूटी।

विक्रमजोत, बस्ती। “जब सहेली बनी आलाकमान तो डर काहे का” जी हां बस इसी लाइन के सहारे वह अनवरत न सिर्फ तीसरे जिले से हवाट्सएप्प पर ड्यूटी करती है वरन रुतबा इतना भारी कि उसके आला अधिकारी भी उसके आगे नतमस्तक हैं।

जानकारी के अनुसार यह विचित्र परन्तु कड़वा सच है कि भदोही में संविदा पर नियुक्त परन्तु विभागीय जीओ के विपरीत दूसरे जिला बस्ती के पहले परशुरामपुर व अब विक्रमजोत ब्लॉक में सीडीपीओ के पद पर बतौर संविदा अभी भी लक्ष्मी पाण्डेय तीसरे जिला अयोध्या से अपने हवाट्सएप्प से ड्यूटी करती है तथा हवाट्सएप्प से ही अधिकांश आर्डर व निर्देश जारी करती हैं।

बता दें कि वरिष्ठ समाजसेवी आर के पाण्डेय एडवोकेट ने विगत लम्बे समय से सीडीपीओ लक्ष्मी पाण्डेय पर अनेकों भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर शिकायतें की हैं व आरटीआई लगाई हैं परंतु डीपीओ सावित्री देवी की कृपापात्र यह सीडीपीओ स्वयं मुख्यसचिव उत्तर प्रदेश सरकार के फरवरी 2018 के जीओ व अन्य स्थापित व्यवस्था के विपरीत न सिर्फ स्वयं पर लगे आरोपों की स्वयं जांच करके स्वयं को सही साबित करती हैं बल्कि किसी भी आरटीआई का जवाब तक नही देती है परन्तु यह इतनी दबंग व ऊंचे रसूख की है कि संविदा आपत्ति के बावजूद यह पूर्ववत हवाट्सएप्प से ड्यूटी करती हैं। 19 तथा 21 मार्च को दिन में एक बजे तक यह अयोध्या में घर बैठे मोबाइल से ड्यूटी की खानापूर्ति करती रही हैं।

उधर आर के पाण्डेय एडवोकेट ने सीएम योगी व पीएम मोदी से शिकायत करते हुए सीडीपीओ लक्ष्मी पाण्डेय व डीपीओ सावित्री देवी के कुल चल-अचल संपत्ति की जांच के साथ इन दोनों के विगत एक वर्ष के प्रतिदिन के मोबाइल सीडीआर के जांच कार्यवाही की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close