UNCATEGORIZED

मंत्री, जल शक्ति डाॅ0 महेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में जनपद की वार्षिक जिला योजना समिति की बैठक सम्पन्न

कलयुग की कलम

मंत्री, जल शक्ति डाॅ0 महेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में जनपद की वार्षिक जिला योजना समिति की बैठक सम्पन्न

KKK न्यूज़ रिपोर्ट

सुभाष चंद्र पटेल

678.30 करोड़ रूपये से जनपद का होगा चहुमुखी विकास

जिला योजना समिति कीड बैठक में 678.30 करोड़ रूपये के प्रस्तावित परिव्यय का किया गया अनुमोदन वृक्षारोपण में आम, महुआ, पीपल के वृ़क्षों को लगाया जाय मंत्री

 

 

प्रयागराज मंत्री, जल शक्ति एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग उ0प्र0 डाॅ0 महेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में सर्किट हाउस में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जनपद के विभिन्न विभागोें के लिए 678.30 करोड़ रूपये के प्रस्तावित परिव्यय का अनुमोदन किया गया, जिसके अन्तर्गत स्पेशल कम्पोनेट योजना हेतु प्रस्तावित परिव्यय 166.78 करोड़ प्रस्ताव का, केन्द्र पुरोनिधानित योजनाओं हेतु प्रस्तावित परिव्यय का केन्द्रांश 287.62 करोड़ प्रस्ताव का, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण के अन्तर्गत 2891 लाभार्थिंयों को आवास निर्माण हेतु रू0 34.69 करोड़ प्रस्ताव का, महात्मा गांधी रो0गा0 कार्यक्रम के अन्तर्गत रू0 185.34 करोड़ व्यय कर 55.32 लाख मानव दिवस का सृजन का प्रस्ताव का, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत 4234 समूह के गठन किये जाने हेतु रू0 33.87 करोड़ के प्रस्ताव का, 112 लाभार्थिंयों के गहरे नलकूप स्थापित कराये जाने हेतु रू0 1.99 करोड के प्रस्ताव का़, 400 लाभार्थिंयों को मध्यम गहरे नलकूप स्थापित किये जाने हेतु रू0 6.12 करोड़ रूपये के प्रस्ताव का, 10 चेक डैम निर्माण कराये जाने हेतु रू0 4.00 करोड़ के प्रस्ताव का, ग्रामीण सड़कों के निर्माण/पुननिर्माण के अन्तर्गत 240 सड़क लम्बाई 313.76 किमी0 हेतु रू0 94.19 करोड़ के प्रस्ताव का, वन विभाग द्वारा शहरी क्षेत्र में 3500 बिक्र गार्ड का निर्माण, प्रथम वर्ष के 200 एवं द्वितीय वर्ष के 448 वृक्षारोपण एवं अनुरक्षण, 1329 हे0 भूमि पर वृक्षारोपण तथा 2400 हेक्टेयर भूमि पर अग्रिम मृदा कार्य हेतु रू0 15.05 करोड़ के प्रस्ताव का, 5000 स्वच्छ शौचालय के निर्माण हेतु रू0 6.00 करोड़ का प्रस्ताव, ग्रामीण क्षेत्रों में 871 सोलर स्ट्रीट लाइट की स्थापना हेतु रू0 1.89 करोड़ के प्रस्ताव का, जनपद के 25 पर्यटन स्थलों के पर्यटन विकास हेतु रू0 2.55 करोड़ के प्रस्ताव का, माध्यमिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत विद्यालय भवनों के निर्माण, विस्तार, शिक्षा कार्यालय के निर्माण, रा .शिक्षा अभियान आदि हेतु कुल रू0 16.87 करोड़ के प्रस्ताव का, प्रावैधिक शिक्षा के अन्तर्गत भवन निर्माण, उपकरण साज-सज्जा हेतु रू0 3.23 करोड़ के प्रस्ताव का, ऐलोपैथी, आयुर्वेद तथा होम्योपैथी के अन्तर्गत रू0 20.69 करोड़ के प्रस्ताव का, नगरीय क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने हेतु रू0 5.59 करोड़ के प्रस्ताव का, सामाजिक सेवाओं यथा-छात्रवृत्ति, पेंशन, पुत्रियों की शादी हेतु अनुदान तथा अत्याचार से पीड़ित व्यक्तियों को आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने हेतु रू0 110.95 करोड़ रूपये के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। इस तरह से जनपद के विभिन्न विभागों के लिए 678.30 करोड़ रूपये के प्रस्तावित परिव्यय का जिला योजना समिति द्वारा अनुमोदन किया गया।

मंत्री जी ने वन विभाग के अधिकारियों से प्रयागराज में किये गये वृक्षारोपण के सम्बंध में जानकारी ली। उन्हें बताया गया कि इस वर्ष लगभग 62 लाख वृक्षों को लगाने का लक्ष्य है। इस पर मंत्री जी ने निर्देशित किया कि पीपल महुआ, आम, नीम, बरगद, जामुन, आॅवला एवं बेल का वृक्ष को अधिक संख्या में रोपित किया जाये। साथ ही इसकी जिओं टैगिंग के माध्यम से इसकी जांच भी करायी जाये। मंत्री जी ने वृक्षों को लगाने एवं उनकी देखभाल करने के डीएफओ को निर्देश दिये। लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा कि चेक डैम वहीं पर बनाये जाने का प्रस्ताव भेजा जाये, जहां का जलस्तर बहुत नीचे चला गया है। मंत्री ने पीडब्लूडी के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नवनिर्मित सड़कों एवं सड़कों की मरम्मत का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जहां कहीं भी नई सड़कों का निर्माण कार्य हो रहा हो या हो चुका हो, वहां पर किये गये कार्य को बोर्ड अवश्य लगायें। सड़क एवं पुलो के निर्माण के बारे में जानकारी लेते हुए मंत्री ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिए कि कहीं पर भी रोड़ पर गड्ढ़ा नहीं दिखना चाहिए। गड्ढ़ा मुक्ति अभियान को गम्भीरता के साथ लेते हुए ये सुनिश्चित करें कि जिले की किसी भी सड़क पर गड्ढ़ा न दिखे। पर्यटन विभाग के अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी प्रस्ताव को शासन को भेजने से पूर्व सम्बंधित विधानसभाओं के जनप्रतिनिधियों से बातचीत कर अपना प्रस्ताव दिखाकर ही भेजें। उन्होंने गंगा के तटों के किनारें खेल मैदान बनाने की योजना को प्रमुखतः से लेकर कार्य को तेजी के साथ पूरा करायें। गंगा के तटों के किनारे चबुतरा बनाये जाये, तटों की साफ-सफाई की व्यवस्था हो। स्वास्थ्य विभाग के सीएससी/पीएससी में जो भी भवन जर्जर अवस्था में हो, उसका प्रस्ताव बनाकर भेजें, जल्द से जल्द इस पर कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। वैक्सीनेशन के सम्बंध में जानकारी प्राप्त करते हुए मंत्री जी ने कहा कि 60 वर्ष तक के व बीमार व्यक्तियों को इस समय वैक्सीनेशन का टीका लगाया जा रहा है। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराकर लोगो के मन व्याप्त भय को दूर करें और उन्हें कोविड का टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें। मंत्री जी ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले में जितनी भी परियोजनाओं संचालित है, उनके शिलान्यास एवं उद्घाटन जनपद के जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर कराया जाये। मंत्री ने कहा कि जनपद के चहुमुखी विकास के लिए पैसे की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने सभी सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी योजनाएं/परियोजनाएं बनायी जाये, उनको सयम से पूर्ण किया जाये।

बैठक में सांसद फूलपुर केशरी देवी पटेल, सांसद प्रयागराज रीता बहुगुणा जोशी, विधायक कोेरांव, बारा, मेजा, विधान परिषद सदस्य सुरेन्द्र चैधरी, मुख्य विकास अधिकारी शिपू गिरि, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी जितेन्द्र कुमार सहित सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण एवं सभी सदस्यगण मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close