उत्तरप्रदेश

न्यायसंगत जवाब के बजाय आफिस छोड़ भागे बीडीओ जसरा , रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज

कलयुग की कलम

पीएम आवास, शौचालय से वंचित महिलाओं ने घेरा बीडीओ आफिस।

अन्याय की शिकार रसोइयों ने बीडियो से मांगा न्याय।

प्रयागराज जसरा विकास खण्ड जसरा के विभिन्न ग्राम सभा में पीएम आवास व शौचालय से वंचित निर्धन बेसहारा महिलाओं ने आज न्याय हेतु बीडीओ आफिस पर पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई तथा अन्यायपूर्ण ढंग से नौकरी से निकाली गई रसोइयों ने भी बीडीओ से न्याय मांगा जबकि इन फरियादियों की आवाज सुनने के बजाय बीडीओ बहाने से बाहर चले गए।

 

जानकारी के अनुसार आज जसरा ब्लॉक की सैकड़ों महिलाओं ने बीडीओ आफिस पहुंचकर अपनी व्यथा बीडीओ से बताकर न्याय की आशा में आयी थीं जिनमे आवास व शौचालय से वंचित महिलाएं व पीड़ित रसोइयां थीं लेकिन बीडीओ ने आफिस छोड़कर भागने बेहतर समझा। इस बावत महिलाओं ने कहा कि वे सुबह से शाम तक यहां बैठी रहीं जबकि दिन में दो बजे बीडीओ ने फोन पर बताया कि वह 10 मिनट पहले ही बाहर निकल गए हैं। हास्यास्पद तो यह है कि इतने बड़े कार्यालय में एक भी जिम्मेदार व्यक्ति महिलाओं को सुनने नही आया। फिलहाल मोबाइल पर मैसेज देखकर मौके पर पहुंचे पीडब्ल्यूएस प्रमुख आर के पाण्डेय एडवोकेट ने इन महिलाओं को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया है। आज बीडीओ आफिस पर पीडब्ल्यूएस महिला जिलाध्यक्ष प्रयागराज कल्पना मिश्रा, ननकी, अनीता, राम शखी, सीमा देवी, विमला देवी, सुरसती, फोटो देवी, शांति आदि सैकड़ों महिलाओं ने अपनी बात रखते हुए कहा कि ग्राम प्रधान गांव के बड़े लोगों से धन लेकर उन्हें आवास देते हैं जबकि उन निर्धन बेसहारा महिलाओं के पास रिश्वत देने के लिए धन न होने के कारण उन्हें आवास व शौचालय नही मिला वहीं पीड़ित रसोइयों का आरोप है कि ग्राम प्रधान, हेडमास्टर व खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं बीएसए की मिलीभगत से उन्हें अन्यायपूर्ण ढंग से नौकरी से हटाकर अपात्र लोगों को जॉब पर रखा गया है ।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close