उत्तरप्रदेश

महिला अधिकार संगठन ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या में धूमधाम से महिला दिवस समारोह मनाया,रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज नैनी

कलयुग की कलम

प्रयागराज महिला अधिकार संगठन प्रयागराज के तत्वावधान में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस समारोह की पूर्व संध्या पर आज खुसरो बाग रेलवे कॉलोनी परिसर प्रयागराज में धूमधाम से महिला दिवस मनाया इस अवसर पर सैकड़ों महिलाएं उपस्थित होकर सामूहिक रूप से सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विचार प्रस्तुत किया व लगभग 100 महिलाओं और 20 कोरोना योद्धाओं को मंच से सम्मानित किया गया कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर श्रीमती अनीता सचान ,सदस्य राज्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश विशेष अतिथि के रूप में डॉक्टर नीता साहू ,सुभाष राठी अधिवक्ता, श्याम सुंदर सिंह पटेल, संरक्षक, श्रीमती श्री आर यस वर्मा पूर्व कमिश्नर ,प्रोफेसर अमिता पांडे, सईदुर्रब वरिष्ठ समाजसेवी आदि विशिष्ट अतिथि के रूप में मंच पर रहे कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती मंजू पाठक ने व संचालन संस्था संरक्षक श्याम सुंदर सिंह पटेल व श्रीमती मनीषा शुक्ला ने किया इस अवसर पर सर्वप्रथम भारत माता के चित्र पर व वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई के चित्र पर मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों ने माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया तत्पश्चात गणेश वंदना श्रीमती अंजू मिश्रा जी ने किया स्वागत गीत डॉक्टर रश्मि शुक्ला ने बड़े सुंदर ढंग से मन की वीणा से गुंजित मधुर मंगलम स्वर देकर लोगों को मन मुग्ध किया तत्पश्चात बच्चियों ने गीत व नृत्य प्रस्तुत किया जिसमें कुमारी आंचल ने दिलाना गीत पर नृत्य प्रस्तुत किया दीक्षा पांडे ने चुनरी जयपुर की गीत पर बहुत सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया वर्षा और विशाखा ने तू बोल ना रे गीत पर नृत्य प्रस्तुत किया मिस्त्री ने ए मेरे प्यारे वतन गीत गाया कुमारी रितु पटेल, वर्षा ,अंजलि सुधा त्रिपाठी ,प्रीति कुशवाहा ,श्रीमती मंजू, दीक्षा पांडे आदि ने बहुत सुंदर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति कर ढेर सारी तालियां बटोरी और लोगों को मन मुग्ध किया इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती अनीता सचान ने अपने विचार प्रस्तुत करते हुए कहा कि आवश्यकता आविष्कार की जननी है जब पूरे विश्व में शिक्षा व जागरूकता की कमी थी और महिलाओं का शोषण होता था उनके साथ अत्याचार दुराचार होता था महिलाओं को भोग की वस्तु समझा जाता था जो विश्व की एक बड़ी समस्या बन गई थी इस पर महाभारत और पौराणिक कहानी का वर्णन कर उदाहरण दिया कि आज पूरे विश्व में लोगों ने इसे समझा और अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च घोषित हुआ जिससे महिलाओं में उत्साह आया भारत में भी इसे धूमधाम से मनाया जाने लगा और इसके सार्थक परिणाम आए सभी महिलाओं को वोट देने का अधिकार मिला सभी क्षेत्रों में बराबरी का अधिकार व स्वतंत्रता मिली और तेजी से परिवर्तन शुरू हुआ आज महिलाएं चांद पर पहुंची फाइटर बनी सेना का काम संभाल रहे पुलिस में भी जा रही है राजनीति खेल कूद शिक्षा प्रशासनिक सेवाओं व समाज सेवा आदि सभी ओर आगे बढ़ी लेकिन अभी भी आबादी के अनुसार इसकी संख्या कम है उसे इसी तरह के आयोजनों व सतत जागरूकता अभियान चलाने से पूरा किया जा सकता है तभी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ महिला सशक्तिकरण का नारा साकार होगा सभी महिलाएं संगठित होकर जागरूक हो शिक्षित हो संस्कारित हो साहसी बने वह स्वावलंबी होकर बराबर की भागीदारी पाए आज सरकार हर तरह से प्रयास कर रही है कि महिलाएं सशक्त हो जगह जगह पर अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला शक्ति मिशन के तरह महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम आयोजित हो रहे जिससे महिलाओं में उत्साह और जन जागरण हो रहा है मैं सभी को इस अवसर पर अपनी हार्दिक शुभकामनाएं देती इसी क्रम में विशेष अतिथि के तौर पर उपस्थित श्री आर एस वर्मा ने कहा कि महिलाएं समाज की सूजन है वह समाज की रीढ़ की तरह है इन्हें पूर्ण सम्मान मिलना चाहिए अन्य विशिष्ट अतिथियों ने भी ऊपर से मिली जुली बातें कहीं ,श्रीमती मंजू पाठक अध्यक्ष महिला अधिकार संगठन ने कहा कि हमारा संगठन हमेशा से पीड़ित महिलाओं की मदद इनको शिक्षित स्वावलंबी वह आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमेशा सतत प्रयास सील रहा है और रहेगा और हमारी संस्था से महिलाएं बड़ी तेजी से जुड़ रही है और संघर्ष कर रही है समाज में एक अच्छा और नया उदाहरण प्रस्तुत कर रही है जिसके लिए मैं सभी को तहे दिल से बधाई देती हूं व शुभकामना देती हूं कार्यक्रम में उपस्थित सैकड़ों महिलाओं ने धूमधाम से फूलों की होली खेलकर सामूहिक नृत्य प्रस्तुत किया कार्यक्रम में सम्मानित होने वालों में प्रमुख रूप से श्री अनिल कुमार गुप्ता उर्फ अन्नू भैया, सैदुर्रब जी,श्रीमती प्रीता बाजपेई जी कवित्री, श्रीमती रचना सक्सेना कवित्री, श्रीमती जया मोहन कवित्री , प्रो अमिता पांडे ,श्री योगेंद्र सिंह , डॉक्टर नीता साहू जी ,सुभाष राठी जी, डॉक्टर रश्मि शुक्ला मंजू सिंह प्रीति कुशवाहा ,दीक्षा पांडे, आंचल ,अंजलि ,ऋतु ,वर्षा ,मनीषा शुक्ला, सानू जौहर ,सुषमा पाल ,श्याम सुंदर सिंह पटेल ,श्री विष्णु कुमार पांडे सहित 100 लोगों को सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया तथा कोरॉना काल में विशेष रूप से पत्रकार व समाजसेवियों को कोरोना योद्धा की तरह काम करने पर लगभग 20 लोगों को कोरोणा योद्धा सम्मान से सम्मानित किया गया जिसमें डॉक्टर कंचन तोमर ,राजीव ,हिमांशु चौरसिया, बृजेश केसरवानी ,सर्यंस श्रीवास्तव, कुमारी मनोज सिंह, विशाल श्रीवास्तव ,हिमानी आदित्य सिंह आदि, कार्यक्रम में प्रमुख रूप से उपस्थित लोगों में श्रीमती शकुंतला सिंह ,अनिता राज सुधा यादव ,मनीषा शुक्ला ,सानू जौहर जूही, गुड्डडीयादव, राधा पाल, महेंद्र पाल, सुषमा पाल ,लवली पटेल, दुर्गा देवी, शोभा ,शिल्पा सिंह, सुनीता, रीता मौर्या मंजू सिंह ललिता ,अनिरुद्ध यादव ,अनिल डॉ प्रमोद कुशवाहा, सीता, फरीदा, निशा कुंदनानी आदि समिल रहीं अंत में सभी का धन्यवाद ज्ञापन संस्था के संरक्षक और सूबेदार थल सेना कारगिल युद्ध विजेता श्यामसुंदर सिंह पटेल वरिष्ठ समाजसेवी ने किया कार्यक्रम का समापन जलपान के के बाद फूलों की होली के साथ महिलाओं ने सुंदर नृत्य प्रस्तुत करते हुए भारत माता की जय ,महिला अधिकार संगठन जिंदाबाद ,नारी शक्ति जिंदाबाद , अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस जिंदाबाद के नारे लगाए।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close