उत्तरप्रदेश

मॉडल गांव बनाने पर ही गांव में खुशहाली आएगी-मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ,रिपोर्टर सुभाष चंद्र पटेल प्रयागराज

कलयुग की कलम

प्रयागराज ।गांव में बदलाव की बयार के साथ हर किसी के जीवन में खुशहाली लाने के लिए मॉडल गांव बनाएं जाने का प्रयास करना चाहिए यह बातें उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने जमुनापट्टी और गंगापट्टी में भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक के दौरान कही।

श्री सिंह ने कहा कि विकास की पहली सीढ़ी गांव है, भारत की आत्मा गांवों में बसता है। हर गांव स्तर पर किसान उत्पादक संगठन(एफपीओ) बनाना चाहिए। हर गांव में विकास योजना यानी मेनिफेस्टो बनानी चाहिए जिससे गांव के सर्वांगीण विकास हो सके। गांव की साफ सफाई,कोई अनपढ़ न हो, इलाज दवा के साथ योगा की व्यवस्था होनी चाहिए।गांव में सोलर लाइट प्रकाश की व्यवस्था पर जोर देना चाहिए। पेयजल व सिंचाई के लिए पानी का माध्यम बनाना चाहिए। रोजगार के लिए इंटरनेट की व्यवस्था कराना चाहिए। हर आदमी के हाथों में काम होना चाहिए,हर व्यक्ति को नौकरी नहीं मिल सकती है,उसके लिए छोटे छोटे उद्योगों के जरिए स्वालंबी बनकर आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ना होगा। जब गांव में वृक्षारोपण,खेल,कला और संस्कृति के विकास का ध्यान देंगे। प्रतिभा चयन और विकास की पारदर्शिता से कार्य करना होगा। गांव की स्थापना और विकास पर प्रत्येक वर्ष आयोजन में होना चाहिए।जहां पर देश और प्रदेश सरकार की योजनाओं एवं गांव के विकास पर चर्चा होना चाहिए और उस मंच में गांव के प्रतिभाशाली उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों को सम्मानित करना चाहिए, तभी गांव में खुशहाली आएगी तब गांव में मॉडल गांव की स्थापना होगी। मॉडल गांव बनाने में सर्वसमाज सहभागिता आवश्यक है। गांव में उत्तर प्रदेश सरकार सरकार हर संभव मदद व विकास करने के लिए कृत संकल्पित है। आगामी पंचायत चुनाव में भाजपा कार्यकर्ता संगठित होकर सर्वागीण विकास को बल देने की दिशा में गांव वासियों के बीच जनजागरण चलाकर गांव की पहली सीढ़ी को मजबूत बनाने में योगदान दे।सभी गांव को मुख्य सड़कों को जोड़ा गया है कोई गांव एवं पुरवा विधुतीकरण से वंचित नहीं रहेगा।शहर पश्चिमी के मंदर माफी गांव में ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को तलाशने के लिए मिनी स्टेडियम बन रहा है।योगी सरकार की योजना है कि प्रत्येक न्यायपंचायत स्तर पर खेल का मैदान हो।मेरा लक्ष्य शहर पश्चिमी विधानसभा को मॉडल विधान सभा बनाना है। महिलाओं की भागीदारी भी सुनिश्चित कराएं, विधानसभा शहर पश्चिमी में लगभग 3000 हजार महिलाओं ने प्रशिक्षण के उपरांत टूलकिट प्राप्त कर आत्मनिर्भर होकर स्वालम्बी बन रही है।समाज एवं भाजपा कार्यकर्ताओं का सहयोग अपेक्षित है। इससे पहले कार्यकर्ताओं के मन की बात सुनी, कार्यकर्ताओं ने सड़क बिजली स्वास्थ्य शिक्षा आदि क्षेत्रों के विषय पर रूबरू कराया जिस पर मंत्री ने अधिकारियों को कड़े रूप से निर्देश देते हुए प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निराकरण करने का निर्देश दिया।

इस मौके पर पवन श्रीवास्तव लेखराज सिंह पटेल सुनील श्रीवास्तव दीना नाथ कुशवाहा सुनील निषाद ज्ञान बाबू केसरवानी राजेश सिंह पटेल महिपत सिंह पदुम जायसवाल अश्वनी शर्मा अजय साहू उमा शंकर पाल बादाम सिंह भारतीय फूलचंद साहू रामजी शुक्ला दीपमाला श्रीवास्तव राम नरेश सिंह पटेल दिनेश तिवारी आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close