छत्तीसगढ़

मजदूरों को नही मिलता कलेक्टर दर से मजदूरी,विधानसभा में सरकार से सवाल,विधायक,अनिता शर्मा

कलयुग की कलम

मजदूरों को नही मिलता कलेक्टर दर से मजदूरी,विधानसभा में सरकार से सवाल,विधायक,अनिता शर्मा

रायपुर विधान सभा मे पूछा प्रश्न उद्योगों में मजदूरों का शोषण क्यों ,,, 0 नगरी प्रशासन मंत्री डहरिया ने दिए जांच के आदेश,,

धरसींवा। रायपुर धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने आज फिर किसानों के साथ साथ मजदूरों को कलेक्टर दर पर वेतन के साथ साथ स्थानीय लोगो को रोजगार को लेकर उठाया विधानसभा में मुद्दा और पूछा मंत्री से सवाल ऒर कहा कि एक मजदूर देश के निर्माण में बहुमूल्य भूमिका निभाता है।और उसका देश के विकास में अहम योगदान होता है किसी भी समाज, देश,संस्था ऒर उद्योग में काम करने वाले श्रमिको की अहम भूमिका होती है।जो आज उद्योग नगर में शोषण का शिकार हो रहा है उसे कलेक्टर दर पर मजदूरी नही मिल रहा है।इन तमाम शिकायतों को विधान सभा मे उठा कर संबंधित विभाग को आड़े हाथों लिया।

धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने गुरुवार को फिर किसानों के साथ साथ मजदूरों को कलेक्टर दर पर वेतन के साथ साथ स्थानीय लोगो को रोजगार को लेकर उठाया विधानसभा में मुद्दा,पूछा मंत्री से सवाल।

विधानसभा सत्र में लगातार किसानों के हित में आवाज उठाने के साथ साथ आज धरसीवां विधायक अनिता योगेंद्र शर्मा ने विधानसभा में मजदूरों को लेकर सवाल पूछा कि धरसीवां छत्तीसगढ़ का सबसे बड़ा इंडस्ट्रियल एरिया है,जहाँ काफी संख्या में मजदूर कार्य करते हैं लेकिन आज तक मजदूरों को उनका हक यानी कलेक्टर दर पर उनको वेतन क्यों नही मिलता बड़ी बड़ी कंपनियां मजदूरों का खुलेआम शोषण करती हैं, विधायक श्रीमती शर्मा ने इसके साथ साथ स्थानीय लोगों के रोजगार के संदर्भ में भी सवाल उठाया विधायक ने सरकार से पूछा कि छत्तीसगढ़ का स्थानीय निवासी कंपनियों में बड़ी पोस्ट पर क्यों नहीं रक्खें जाते जिसके नाते स्थानीय लोगों में रोष है।

0 उद्योगों में शोषण पर जांच के आदेश

धरसींवा विधायक श्रीमती अनिता शर्मा प्रदेश के उद्योगों में हो रहे शोषण पर छतीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया ने कहा कि यह वास्तव में गंभीर समस्या है।मंत्री जी के द्वारा बोला गया है कि अगर ऐसा कंपनियों के द्वारा किया जा रहा है तो उस पर जाच करवा करके उचित कार्रवाई की जाएगी वही सम्बन्धित विभाग को तत्काल जांच के आदेश दिए है।

कोरिया – राजेश सिन्हा खास रिपोर्ट

Related Articles

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Close